राजस्थान व्यापार बढ़ाने के लिए जयपुर के राधिका बिहार में रहने वाले 45 वर्षीय आभूषण कारोबारी यशवंत ने व्याज माफियाओं से कर्ज लिया। लेकिन कारोबार चौपट होने की वजह से कर्जमाफीओ का ब्याज चुकाने असफल हो गए। धीरे-धीरे शुरू हुआ माफियाओं का आतंक ब्याज माफिया लगातार परेशान कर उन्हें धमकी देने लगे रोज-रोज की ब्याज माफियों के आतंक से परेशान आभूषण व्यापारी यशवंत (45) अपनी पत्नी ममता(42) बेटा भारत (20) और बेटी अंजिता (23) अपने दो बच्चों के साथ फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। राजस्थान की राजधानी जयपुर के कानोत थाना क्षेत्र के जमडोली में ब्याज माफियों के आतंक से परेशान इस परिवार की सामूहिक खुदकुशी ने कानून व्यवस्था व देश में बा सब ठीक है के दावा करने वाली कांग्रेसी से लेकर केंद्र सरकार तक के हर दावे को रसातल में गया हुआ साबित करती है। व्यापारी से लेकर किसान किस तरह कर्ज के बोझ के तले दबा हुआ है असलियत दिखाते हुए सभी राजनीतिक पार्टियों की कलई खोलती है जो कहते हैं देश में सब ठीक चल रहा है। दिन पर दिन बेरोजगारी आर्थिक तंगी से परेशान किसान से लेकर व्यापारीयों की खुदकुशी, सरकार केंद्र की हो या राज्य की केवल उनके एक ही दावे रहे हैं जिससे जमीनी स्तर पर किसी का भला होता हुआ नजर नहीं आया है। प्रशासन अगर खोखले दावों की बजाय जमीनी स्तर पर कार्य करें तो हकीकत कुछ और अलग हो लेकिन उन्हें तो राजनीति करना है। फिलहाल पूरे मामले में पुलिस ने बताया सुबह सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंच कर जांच शुरू की इस संबंध में पुलिस ने 3 लोगों को हिरासत में लिया है फिलहाल पूरे मामले की जांच की जा रही है घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट मिला या नहीं मिला इसकी पुलिस ने अभी तक कोई पुख्ता जानकारी नहीं दी है। पुलिस के मुताबिक माता-पिता के साथ दोनों बच्चों ने सामूहिक रूप से खुदकुशी की है या परिवार आभूषण के कारोबार से जुड़ा था जानकारी के मुताबिक आर्थिक तंगी वह ब्याज माफिया के आतंक से परेशान होकर परिवार ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली,

क्या है पूरा मामला

राजस्थान की राजधानी जयपुर के कानोत थाना क्षेत्र के जामडोली थाना क्षेत्र से आभूषण व्यापारी पति पत्नी दो बच्चों समेत फांसी लगाकर आत्महत्या करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। जानकारी के मुताबिक परिवार आर्थिक तंगी से परेशान था परिवार ने शुद्ध व्यापारी से मोटे ब्याज पर कोविड-19 के चलते आर्थिक तंगी से परेशान परिवार सूदखोरों का ब्याज भी नहीं चुका सका, जिसके बाद आरोपियों द्वारा लगातार धमकी दी जाने लगी जिस से आहत होकर व्यापारी ने परिवार समेत फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली पूरी घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। मौके पर पहुंचे अधिकारियों में से एडिशनल एसपी मनोज चौधरी के मुताबिक सूचना मिली थी कि रुचिता बिहार थाना क्षेत्र निवासी आभूषण व्यापारी यशवंत सोनी अपनी पत्नी ममता सोनी पुत्र भरत व पुत्री अजीत सोनी समेत फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस के मुताबिक परिवार ब्याज माफियाओं से कर्ज पर पैसा ले रखा था वह उसे लगातार परेशान कर प्रताड़ित कर रहे थे जिससे परेशान होकर परिवार ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली पुलिस पूरे मामले में कुछ लोगों को हिरासत में लेकर जांच कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here