उत्तर प्रदेश प्रतापगढ़ के जिला अधिकारी डमरू प्लेस कुमार के साथ दो एसडीएम पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर अतिरिक्त एसडीएम विनीत कुमार उपाध्याय ने उनके कार्यालय पर अपने बीवी बच्चे के साथ पहुंचकर धरना शुरू कर दिया भ्रष्टाचार के खिलाफ एसडीएम के धरने के शुरू होते ही डीएम आवाज छोड़ कर चले गए दूसरी तरफ भारी संख्या में पुलिस बल गेट के बाहर तैनात कर मीडिया को रोका गया गेट बंगले का अंदर से बंद है एटीएम साहब धरने पर जुटे हुए हैं एसडीएम के धरने की सूचना के बाद ब्यूरोक्रेसी में हलचल का माहौल है। यूपी सरकार ने एसडीएम को निलंबित कर राजस्व विभाग से संबंधित किया।

उत्तर प्रदेश प्रतापगढ़ में भ्रष्टाचार के आरोप को लेकर प्रशासनिक अधिकारियों की कलई खुलने ही वाली है या जिलाधिकारी और दो एसडीएम पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगे हैं। आरोप लगाकर अतिरिक्त एसडीएम विनीत उपाध्याय अपनी पत्नी के साथ डीएम के सरकारी बंगले पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाकर धरने पर बैठ गए हैं। भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप के बाद मीडिया के जाने पर रोक लगा दिया गया। अंदर एसडीएम धरने पर बैठे बाहर बड़ी संख्या में सुरक्षा बल तैनात अंदर एसडीएम विनीत उपाध्याय अपनी पत्नी के साथ डीएम दो एसडीएम पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा धरने पर बैठे हैं। प्रतापगढ़ के डीएम ने समझाने का प्रयास किया ना मानने पर धरना शुरू होते ही डीएम आवास छोड़ कर चले गए।

दूसरी तरफ पूरे मामले की जानकारी के बाद मीडिया कर्मी डीएम आवास पहुंचे तो पुलिस की सहायता से उन्हें रोक धरना वाले स्थान पर नहीं जाने दिया गया। वहीं दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता भी एसडीएम के समर्थन में डीएम आवास पर पहुंचे जिन्हें सुरक्षा बलों के द्वारा गेट पर रोक दिया गया। इस पर कार्यकर्ता नारेबाजी करने लगे बता दें कि एसडीएम विनीत उपाध्याय डीएम कार्यालय पहुंचे उनके साथ पत्नी व एक बच्चा था। अतिरिक्त एसडीएम ने प्रतापगढ़ के डीएम डॉ रूपेश कुमार व एडीएम सत्रोहन वैश्य और लालगंज के पूर्व एसडीएम मोहनलाल गुप्ता पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाने के साथ फिलहाल लालगंज के एक कॉलेज प्रबंधक के फर्जी वाले को दबाने का एसडीएम ने जिलाधिकारी व एडीएम पर गंभीर आरोप लगाए एसडीएम का कहना है कि उक्त अधिकारी भ्रष्टाचार कर रहे हैं इसके साथ ही भ्रष्टाचार के दबाने के प्रयास में गलत रिपोर्ट लगा रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाते हुए बताया कि उनके खिलाफ जांच में एडीएम ने गलत रिपोर्ट लगा दी इससे नाराज एसडीएम विनीत उपाध्याय ने प्रतापगढ़ के जिला अधिकारी डॉ रूपेश कुमार और दो एसडीएम के साथ कई कर्मचारियों पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए डीएम कार्यालय पर बीवी बच्चें के साथ पहुंचकर धरना देना शुरू कर दिया। अंदर एसडीएम धरना दे रहे हैं बाहर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात हैं। सूत्र के मुताबिक एसडीएम के धरने की सूचना के बाद ब्यूरोक्रेसी में हड़कंप का माहौल है। डीएम के बंगले का गेट अंदर से बंद है जबकि बाहर भारी संख्या में सुरक्षा के सख्त इंतजाम किए गए हैं।

प्रतापगढ़ डीएम के खिलाफ उनके कार्यालय में धरना देने वाले एसडीएम विनीत उपाध्याय को सरकार ने निलंबित कर राजस्व विभाग से संबंधित किया।

एक ट्वीट
और हो गया इंसाफ! DM प्रतापगढ़ के खिलाफ उनके कार्यालय में धरना देने वाले SDM विनीत उपाध्याय को सरकार ने निलम्बित कर राजस्व परिषद में सम्बद्ध किया, हाकिमों ने राहत की सांस ली- इस महान्यायोचित कदम से प्रफुल्लित हो देवों ने यूपी की धरती पर पुष्पवर्षा की

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here