loading...

उत्तर प्रदेश सरकार लगातार गोवंश सुरक्षा के लिए प्रतिबद्धता दोहराते हुए आवारा गायों के बचाव के लिए गौशाला से लेकर गो सुरक्षा के तमाम उपायों के बावजूद गाय की सुरक्षा के तमाम दावे-केवल दावे बनकर रह गए हैं। दूसरी तरफ गोवंश की रक्षा के लिए व्यक्तिगत तौर पर कई ऐसे संगठन गाय की दयनीय स्थिति को देखकर समय-समय पर उनके इलाज से लेकर बचाओ तक के लिए आवाज उठाते रहे हैं।

loading...

ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से सटे बाराबंकी जिला की रामसनेही तहसील के ब्लॉक बनिकोडर स्थित किठैया गांव के पास का है जहां 1 सप्ताह पहले पैर में चोट लगने से गंभीर रूप से घायल गाय को देखकर केसरिया हिंदू वाहिनी युवा मोर्चा के नाम के संगठन के श्रेयांश प्रताप सिंह, हिमांशु तिवारी अमित कुमार पाठक आशीष कुमार शुक्ला राजेश तिवारी शिवम गोस्वामी मिंटू तेज बहादुर सिंह दिव्यांश प्रताप सिंह “चंदू सिंह” , आदित्य सिंह, राजू कुमार ,गोविंद कुमार समेत करीब एक दर्जन कार्यकर्ताओं ने समय-समय पर मरहम पट्टी के साथ उचित देखरेख की जिसकी वजह से गाय के पैरों पर जख्म लगभग भरने लगे हैं, घायल गाय थी अभी भी इस मोर्चे द्वारा लगातार इलाज किया जा रहा है संभावना है जल्द गाय स्वस्थ होकर पुना विचरण करने लगेगी।

शिवम गोस्वामी के मुताबिक संगठन द्वारा घायल गाय के पैरों की मलमपट्टी कर लगातार इलाज किया जा रहा है जिसकी वजह से उसके पैर के जख्म भरने लगे हैं जल्द ही ऊपर वाले की दया से गाय स्वस्थ हो जाएगी।

loading...