मलिहाबाद युवक की पीट-पीटकर हत्या के मामले में सीएम योगी ने संज्ञान लेते हुए आरोपियों के खिलाफ एनएसए के तहत कार्रवाई के आदेश दिए हैं पूरे मामले की मानिटरिंग करते हुए डीएम अभिषेक प्रकाश ने घटनास्थल पर पीड़ितों से मुलाकात की,मर्तक की पत्नी सुमन देवी से मुलाकात कर बताया कि शासन ने उनके खाते में फौरी तौर पर ₹500,000 की सहायता राशि ट्रांसफर कर दी है। पात्रता के अनुसार उन्हें ग्रामीण आवास योजना के तहत आवास व विधवा पेंशन के साथ मृतक के पिता को वृद्धा अवस्था पेंशन दी जाएगी। दोषियों के खिलाफ राष्ट्र सुरक्षा कानून (एनएसए) के तहत संबंधित कार्यवाही कर मामला दर्ज किया गया है।उत्तर प्रदेश राजधानी लखनऊ के मलिहाबाद क्षेत्र में गुरुवार खेत में पानी लगाने के दौरान पानी की पाइप पर बाइक पर बाइक चाड़ जाने से पाइप फट जाने के मामूली विवाद में युवक की पीट-पीटकर हत्या के मामले में ग्रामीणों ने विरोध करते हुए रोड जाम कर दिया। ग्रामीणों के मुताबिक पीट-पीटकर हत्या की शिकायत की लेकिन पुलिस उसे दुर्घटना बता मामला रफा-दफा करने में जुटी रही, ग्रामीण दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर इंसाफ के लिए सड़क पर आ गए।जिसके बाद पुलिस और पब्लिक की भिड़ंत हो गई। पुलिस लगातार हत्या को दुर्घटना बनाने में जुटी रही दूसरी तरफ मीडिया को भी गलत सूचना दी जाती रही। पुलिस बल द्वारा लगातार अपने सेल के माध्यम से मीडिया को गुमराह किया जाता रहा कि यह एक दुर्घटना है। लगातार हत्या को दुर्घटना बताए जाने से नाराज ग्रामीण उग्र हो गए और महिलाओं के साथ सड़क पर आ गए लाठी-डंडे से लैस पब्लिक और पुलिस के बीच हाईवे खोलने को लेकर विवाद हुआ। पुलिस ने डंडे चला ग्रामीणों को खंडे दिया। जिसमें एक ग्रामीण गोली लगने से घायल हो गया। जिसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। ग्रामीणों ने पुलिस पर गोली मारने का आरोप लगाया है। पूरा मामला उग्र हो गया पुलिस ने पूरे मामले को हल्के में ले कर दबाने की कोशिश की मामला उजागर होते ही पुलिस प्रशासन से लेकर झूठ बोलने वाले पूरे अमले की पोल खुल गई। पूरे मामले में कोरोना संक्रमित मोहनलालगंज क्षेत्र से सांसद कौशल किशोर ने दखल देते हुए वीडियो पोस्ट कर पूरी घटना को बताते हुए सीएम से 1000000 रुपए पीड़ित पक्ष को मुआवजा देने की मांग कर दोषीयों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की पूरे मामले की जानकारी ऊपर पहुंचते ही आईजी रेंज लक्ष्मी सिंह ने मौके पर पहुंच संबंधित अफसरों से परामर्श कर जरूरी दिशा निर्देश देते हुए लापरवाही बरतने के आरोप में इंस्पेक्टर सियाराम वर्मा को निलंबित किया। वहीं पुलिस अधीक्षक ग्रामीण का तबादला कर आईपीएस श्री हिरदेश कुमार को लखनऊ ग्रामीण की तैनाती दी गई।उग्र भीड़ को बीजेपी के जिला अध्यक्ष समेत अन्य ने आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन भी तनाव की स्थिति को शांत करवाया फिलहाल पूरे क्षेत्र में तनाव की स्थिति को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है पूरे मामले की आईजी स्तर मॉनिटरिंग की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here