loading...

उत्तर प्रदेश के महाराजगंज में नाबालिक के साथ गैंगरेप की सनसनीखेज वारदात सामने आई है बता दें जिले की कोठी भारत थाना क्षेत्र के 1 गांव निवासी बालिका को प्रेमी ने मिलने के लिए रविवार दोपहर 12:00 बजे बुलाकर अपने अपने तीन दोस्तों के साथ मिलकर चारों दरिंदों ने इनकार करने पर नाबालिग से गन्ने के खेत में मारपीट करते हुए सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। नाबालिग देर शाम तक जब तक घर नहीं लौटी तो उसकी खोजबीन शुरू हुई, पीड़िता को बधावा स्थिति में गन्ने की खेत में बरामद कर उसे सिर्फ सभा समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। परिजनों की तहरीर के आधार पर चार आरोपियों के खिलाफ तहरीर दर्ज कर ली गई है।

क्या है पूरा मामला

loading...

पूरा मामला महाराजगंज जिले की कोठी भार थाना क्षेत्र के एक गांव का है जहां 4 अक्टूबर की दोपहर करीब 12:00 बजे नाबालिक लड़की के प्रेमी सतीश पुत्र गुड्डन ने फोन करके बुलाया। बता दे विगत तीन-चार महीने से दोनों के बीच फोन पर बातचीत (अफेयर) की बात सामने आ रही है। दूसरे शब्दों में कहें तो नाबालिक को आरोपी ने प्रेम जाल में फंसा कर रविवार को फोन कर गन्ने की खेत में मिलने के लिए बुलाया लड़की ने उसकी बात पर भरोसा कर मिलने पहुंची वहां पर अपने तीन दोस्तों के साथ मौजूद प्रेमी ने अश्लील हरकत करते हुए जबरदस्ती करने की कोशिश शुरू कर दी, लड़की ने चारों आरोपियों की इस हरकत का विरोध किया। जिसके बाद चारों आरोपियों ने मारपीट करते हुए नाबालिग से बारी-बारी से दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया, दरिंदगी की शिकार नाबालिका बेहोश हो गई हैवान तब भी उसे नोचते रहे हवस के भूखे दरिंदे दरिंदगी की वारदात को अंजाम देने के बाद उसे छोड़कर वहां से फरार हो गए। देर शाम तक जब पीड़िता घर नहीं लौटी तो परिजनों ने उसकी खोजबीन शुरू की। करीब 4:00 बजे कुछ सुराग लगने के बाद पीड़िता को गन्ने के खेत से बदहवास स्थिति में बरामद कर उसे इलाज के लिए सिसवा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया जहां उसकी हालत गंभीर होने के चलते उसे जिला हॉस्पिटल में रेफर कर दिया गया। लड़की के परिजनों के मुताबिक चारों आरोपियों ने उनकी बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। पूरे मामले में चारों आरोपियों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म के साथ मारपीट व पॉक्सो एक्ट की धाराओं में मामला पंजीकृत कर 2 को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में महिला डॉक्टर ना होने के चलते, गंभीर अवस्था में जिला अस्पताल रेफर किया गया।

पीड़ित को शाम 6:30 बजे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया ले जाया गया, जहां कोई महिला डॉक्टर ना होने के चलते गंभीर अवस्था में डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद पीड़िता को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। जिला अस्पताल में पीड़िता का मेडिकल प्रशिक्षण होना है पूरे मामले की जानकारी के बाद पुलिस के आला अधिकारी हलचल में आते हुए जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

मामले की जानकारी के बाद हलचल में आई पुलिस

पूरे मामले की जानकारी के बाद पुलिस ने पूरे मामले को संज्ञान में लेते हुए आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप पास्को एक्ट में मामला पंजीकृत कर जांच पड़ताल करते हुए दो आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

loading...

loading...

पूरे मामले पर महाराजगंज पुलिस अधीक्षक प्रदीप गुप्ता के मुताबिक पीड़िता का उसी के गांव के एक युवक के साथ प्रेम संबंध था

उसी के बुलाने पर मिलने गई थी पीड़िता के पिता की तहरीर के आधार पर बलात्कार पास्को एक्ट की धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया है इस मामले में एक आरोपी को हिरासत में लिया गया है अन्य 3 आरोपियों की तलाश की जा रही है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here