loading...

आगरा एसएन मेडिकल कॉलेज की एमएस छात्राओं ने डॉक्टर योगिता गौतम हत्याकांड में आरोपी साथी डॉक्टर विवेक तिवारी ने हत्या की बात कबूलते हुए बताया योगिता जल्दी शादी करने को कह रही थी। उसने कहा था कि वह बहन की शादी के बाद उससे शादी कर लेगा इस बात को लेकर विवाद चल रहा था।

डॉ विवेक तिवारी ने बताया कि मंगलवार को योगिता से मिलने पहुंचे इस दौरान उनके बीच बहस शुरू हो गई जिसके बाद उन्होंने योगिता की गला दबाकर हत्या कर दी और फिर मौत को कंफर्म करने के लिए चाकू से सिर पर वार किया जिसके बाद शव को झाड़ियों में लकड़ी से दबाकर फेंक दिया उसने बताया मेरा और योगिता का 7 साल से रिलेशन था आखिरी बार हम मिले तो कार में और विवाद शुरू हो गया। मैंने उनकी गला दबाकर हत्या कर दी मुझे लगा की मौत नहीं हुई है इसलिए मैं अधिकतर गाड़ी में चाकू रखता हूं उसके बाद उस चाकू से योगिता के सिर पर वार कर उसके शव को झाड़ियों के बीच फेंक दिया।

loading...

बैठक विवेक तिवारी ने बताया कि पहले योगिता से बात करनी बंद कर दी थी। उस दौरान उसका मोबाइल भी काफी व्यस्त रहता था उस पर उसे शक भी होने लगा था।

loading...

मंगलवार को उसने बहाने से मिलने के लिए बुलाया इस दौरान झगड़े के बाद योगिता का गला दबा दिया उसकी गर्दन पर चाकू मार हत्या कर दिया।

आरोपी डॉक्टर ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की लेकिन पुलिस ने उसकी कोशिश को नाकाम करते हुए कॉल डिटेल और आगरा में उसकी मौजूदगी के सबूत दिए तब आरोपी ने पूरा वाक्य बयान किया।

loading...

योगिता के परिजनों ने बताया कि विवेक लंबे समय से योगिता को परेशान कर रहे थे। वह उससे एमबीबीएस में 1 साल सीनियर है उसी समय से योगिता पर लगातार शादी का दबाव बना रहे थे। लेकिन योगिता उससे कोई वास्ता नहीं रखना चाहती थी इस कारण मंगलवार शाम 4:00 बजे योगिता घर फोन करके बताया कि डॉ विवेक तिवारी ने उनकी डिग्री कैंसिल कराने की धमकी दी। जिसके बाद आगरा के लिए रवाना हो गयी।

उरई में मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर विवेक तिवारी के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया था इसके बाद देर रात पुलिस ने डॉक्टर विवेक तिवारी को हिरासत में लिया।

आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में स्त्री रोग विभाग की पीजी की छात्रा योगिता गौतम कि उसके साथी विवेक ने बीती रात हत्या करके उसके शव को डौकी थाना क्षेत्र के पास बमरौली गांव की झाड़ियों के बीच लकड़ी से दबाकर फरार जो बुधवार सुबह बरामद हुआ।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here