Barabanki जिले के मसौली थाने के मुलीगंज निवासी राहुल को 16 अक्टूबर की शाम ड्रग्स मामले में फंसाने की धमकी दे बंधक बनाकर वसुले 3 लाख रुपए अाठ हजार रुपये वसुल लिये, एसपी ने पुरे मामले में कार्रवाई करते हुऐ 4 आरोपी सिपाहियों पर कार्यवाही करते हुए निलंबित कर दिया है। आईजी ने वापस कराए 2 लाख रुपए, एनकाउंटर की धमकी दे छोड़ा

क्या है पुरा मामला

बाराबंकी के मसौली थाना क्षेत्र के ग्राम मूलीगंज के रहने वाले राहुल सिंह ने पुलिस पर आरोप लगया है कि वह 16 अक्टूबर की शाम सफदरगंज थाना क्षेत्र के ग्राम तुरकानी के रहने वाले मित्र संदीप यादव के साथ में खाड़े होकर सफदरगंज मुख्य चौराहे जमीन दिखाने के लिए लखनऊ से आ रहे कुछ लोगों का इंतजार कर रहे थे। उसी समय दो कार में सवार युवकों ने उनका अपहरण कर कोठी थाना क्षेत्र के उस्मानपुर स्थित एक मकान में ले गए। जहॉ उसे बंधक बनाकर करीब छह सिपाहियों ने उसकी जेब से मौजुद आठ हजार रुपये निकलकर बियर मंगाकर पी और पिस्तौल कनपटी पर सटाकर दस लाख मांगे गए। कहा रुपये नहीं दोगे तो दो किलो मार्फीन के (फर्जी मुकदमे में मुकदमा दर्ज कर) जेल भेज देगें। पीड़ित राहुल के मुताबिक उसने डरकर अपने दो रिश्तेदारों से डेढ़-डेढ़ लाख रुपये मंगाकर पीड़ित की मानें तो एसओ कोठी के सामने उसके रिश्तेदारों से सिपाहियों को रुपये दिये है। सांसद के दखल के बाद एएसपी साउथ ने मामले में चार को सस्पेंड कर दिया है।

रिर्पोट के मुताबिक पुरे मामले में कोठी थाने में तैनात सिपाही नीलेश सिंह, जमाल और पुलिस लाइन में तैनात आशीष तिवारी व अमित सिंह भी शामिल है। शिकायत करने पर एनकाउंटर की धमकी देते हुए छोड़ दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here