उत्तर प्रदेश में 11 अगस्त की सुबह बागपत बीजेपी के पूर्व जिला अध्यक्ष संजय खोखर की हत्या मामले में पुलिस ने खुलासा करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है जबकि तीन फरार है पुलिस ने दावा किया है कि पूर्व चेयरपर्सन ने राजनीतिक तौर पर हार का बदला लेने व आगामी चुनाव में जीत सुनिश्चित करने के लिए उनकी हत्या करवाई थी।

बागपत पुलिस ने सोमवार को पूर्व बीजेपी जिला अध्यक्ष संजय खोखर की हत्या का खुलासा करते हुए बताया कि उनकी हत्या चुनावी रंजिश आपसी झगड़े व अपमान का बदला लेने के लिए पूर्व जिला पंचायत सदस्य के बेटे व देवार ने मिलकार कराई थी।

पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि पूर्व जिला अध्यक्ष संजय खोखर के समर्थन की वजह से उनके परिवार वाले चेयरमैनी हार गए थे और आगामी चुनाव में संजय खोखर चेयरमैन पद में बाधक बन रहे थे। आरोपियों ने कबूलनामे में बताया कि संजय खोखर के जिला अध्यक्ष पद पर रहने के दौरान संजय खोखर से विवाद हुआ था जिसमें संजय खोखर को जेल भेज दिया गया था, तब से वह अपमानित महसूस करते हुए उनकी हत्या की प्लानिंग कर रहे थे, जिसमें संजीव खोकर, श्रवण खोखर, सागर गोस्वामी, सागर बालियान व साहिल सलमानी को शामिल कर योजना बनाकर उनकी हत्या की गई।

योजना के मुताबिक ही सागर गोस्वामी, सागर बालियान व श्रवण ने गोली चलाकर सुबह के वक्त संजय खोखर की हत्या कर फरार हो गये। पुलिस ने पूछताछ के बाद संजीव खोखर निवासी मोहल्ला पट्टी धनधना कस्बा छपरौली व बड़ौत निवासी श्रवण खोखर को जेल भेज दिया है।

11 अगस्त यह पूरा मामला- बागपत मॉर्निंग वॉक पर निकले पूर्व बीजेपी जिला अध्यक्ष की गोली मारकर हत्या, कानून व्यवस्था को लेकर डीजीपी का एक्शन थाना प्रभारी तत्काल प्रभाव से निलंबित

बता दे इस मामले में अभी भी पच्चीस-पच्चीस हजार के इनामी सागर गोस्वामी, सागर बालियान व साहिल सुलेमानी फरार चल रहे हैं ।

क्रेडिट छवि एंड वीडियो बागपत पुलिस टि्वटर अकाउंट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here