loading...

बिहार के भागलपुर जिले के मुजाहिदपुर थाना क्षेत्र के हसनपुर गांव में इस कलयुग में महाभारत एक बार फिर से दोहराई गयी। यहां एक जुआरी पति अपनी पत्नी को जुआ में हार गया। पत्नी ने जब जुआरियों के साथ जाने से इनकार किया तो कलियुगी दरिंदे पति ने पत्नी से मारपीट करते हुए उसके शरीर पर तेजाब फेंका दिया। फिर भी महिला जुआरियों के साथ जाने को तैयार नहीं हुई तो दरिंदे पति ने पत्नी के प्राइवेट पार्ट पर तेजाब डाल घर में क़ैद कर दिया। महिला ने बताया घायल होने के बाद उसका इलाज मायागंज में चला, लेकिन ससुराल वालों के डर व दबाव से पुलिस तक नहीं पहुंच सकी। मानवता को शर्मसार कर देने वाली यह घटना 2 नवंबर की है बीती देर रात पीड़िता किसी तरीके से अपने ससुराल हसनगंज से भागकर अपने मायके लोदीपुर थाना क्षेत्र के लिछो गांव पहुंची जिसके बाद मायके वालों को पीड़िता ने आपबीती सुनाई। जिस किसी ने भी पीड़िता की आपबीती सुनी व जख्म देखे उसकी रूह कांप गई। पीड़िता ने मायके वालों को बताया कि उसका पति उसे जुआ में हार गया। जिसके बाद दूसरे दिन उसे जुआरियों के हाथों में उसे सौंप दिया। जब उसने जुआरियों के साथ जाने से इनकार किया तो उसके शरीर पर तेजाब डाल दिया, बार-बार विरोध करने पर प्राइवेट पार्ट में भी तेजाब डाल कमरे में कैद कर दिया। जिसके बाद वह बीती रात दरिंदे पति के चंगुल से किसी तरीके भागकर अपने मायके आई है।

महिला के मुताबिक शादी के 10 साल बाद भी जब वह मां नहीं बन पाई तो उसे उसके पति ने जुआ में हारने के बाद यह सजा दी। महिला ने पूछताछ में परिजनों को बताया कि उसका इलाज मायागंज में हुआ। लेकिन ससुराल वालों के डर दबाव की वजह से वह पुलिस तक नहीं पहुंच सकी।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here