loading...

Bharat Bandh तीन कृषि कानूनी एमएसपी की मांग को लेकर किसानों के भारत बंद का राजधानी दिल्ली में व्यापक असर देखने को मिल रहा है। किसानों ने के भारत बंद के आवाहन से रेलवे हाईवे मेट्रो सेवाएं बुरी तरह प्रभावित दिल्ली पुलिस ने एहतियातन लाल किले जाने वाले रास्तों को बंद किया है। यानी कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली बॉर्डर से लेकर व्यापक इलाकों में संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा 27 सितंबर की सुबह 6:00 बजे से शाम 4:00 बजे तक भारत बंद का आवाहन किया है।

loading...

भारत बंद को लेकर गाजीपुर बॉर्डर नेशनल हाईवे 9 नेशनल हाईवे 24, गाजीपुर के अलावा शंभू बॉर्डर पर भी किसानों की भीड़ के चलते दिल्ली उत्तर प्रदेश हरियाणा पंजाब जैसे उत्तर भारत के राज्यों में व्यापक रूप से देखने को मिल रहा है। वही हरियाणा के बहादुरगढ़ में किसानों ने रेलवे ट्रैक पर बैठकर विरोध जताया। वहीं राजधानी दिल्ली मेट्रो रेल कार्पोरेशन ने सुरक्षा कारणों से मेट्रो स्टेशन बंद कर दिया। भारत बंद को लेकर किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि बंद पूरी तरीके से शांतिपूर्ण रहेगा और एंबुलेंस समेत आपातकालीन सीमाओं को प्रभावित नहीं किया जाएगा।

पिछले साल यानी 27 सितंबर 2020 को राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद ने 3 किसान विरोधी काले कानूनों को मंजूरी दी थी जिसके विरोध में आज 27 सितंबर 2021 को किसानों ने विरोध करते हुए भारत बंद का आवाहन किया है इस विरोध प्रदर्शन का कांग्रेश राजदा लिफ्ट समेत 10 विपक्षी दलों ने समर्थन करते हुए सड़क पर उतर कर भारत बंद को सफल बनाने में ताकत झोंकी है एक तरफ बिहार में राजनीति के कार्यकर्ता सड़क पर उतरे तो हरियाणा के कुरुक्षेत्र के शाहाबाद इलाके में किसानों ने बीच सड़क में बैठकर दिल्ली अमृतसर हाईवे को जाम कर दिया किसानों के विरोध प्रदर्शन के चलते बुरी तरीके से जाम लग गया है।

Kisanon ka Bharat bandh

वहीं भारतीय किसान यूनियन नेता राकेश टिकैत ने कहा- “अगर 10 सालों में भी कृषि कानूनों में सुधार नहीं करेंगे तो यह आंदोलन 10 साल तक जारी रहेगा किसी के विचारों को आप विचार से ही बदल सकते हैं बंदूक की ताकत से विचारों को नहीं बदल सकते” वही कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने बातचीत का प्रस्ताव दिया जिसे किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने एक टक जवाब देते हुए रट्टू बयान करार दिया है।

loading...

देश के अलग-अलग हिस्सों से जाम की भयानक तस्वीरें सामने आ रही है राजधानी दिल्ली समेत आसपास के राज्य इससे बुरी तरीके से प्रभावित है एनसीआर के शहरों से राजधानी में प्रवेश वह भी मुश्किल हो गया है राजधानी की सीमाओं के आसपास वाहनों की लंबी-लंबी कतारें लगी हुई है दूसरी तड़प नौकरी करने वाले लोगों का दफ्तर तक पहुंचना मुश्किल हो रहा है। गुरुग्राम दिल्ली बॉर्डर पर कई किलोमीटर लंबा जाम लगा है जिनकी तस्वीरें देखकर जाम की स्थिति को समझ सकते हैं।

loading...