loading...

राजधानी रायपुर में साडे 16 बरस की 7 माह की गर्भवती नाबालिक रेप पीड़िता से दोबारा चलती कार में गैंगरेप की हैवानियत भरी घटना, तीन आरोपी गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर एक बार फिर शर्मसार हुई है यहां एक घर में झाड़ू पोछा कर जीवन यापन करने वाली 16 बरस की नाबालिक को ज्यादा काम के पैसे दिलाने का झांसा देकर तीन दरिंदों ने बारी-बारी से गैंगरेप की घटना को अंजाम दे| किसी से भी बताने पर जान से मारने की धमकी दे घर के पास छोड़ दिया, जिसके बाद डरी सहमी नाबालिक अपने रिश्तेदार के जहां रहने चली गई, डर के मारे इस बात को उसने सबसे छिपाए रखा, 3 माह की गर्भवती होने पर उसे पूरे मामले की जानकारी हुई| लेकिन 7 महीने की गर्भवती होने पर उसने पूरे मामले की जानकारी रिश्तेदारों को दी| पूरे मामले की जानकारी के बाद आरोपियों ने किसी और से शादी करवाने का झांसा देकर उसे धमतरी बुलया, 24 दिसंबर की रात तीनों आरोपी नाबालिक को एसयूवी कार में बैठाकर धमतरी से नया रायपुर ले गए| इस दौरान 7 महीने की नाबालिक गर्भवती रेप पीड़िता से पुनः 48 वर्षीय परशुराम, 39 वर्षीय तरुण, 27 वर्षीय राजेश तीनों आरोपियों ने कार में जबरन गैंगरेप की घटना को अंजाम देने के बाद सुबह 4:00 बजे घर के पास मरोदा स्टेशन पर छोड़कर किसी से पूरे मामले को बताने पर जान से मारने की धमकी दे फरार हो गए|

(नाबालिक के पिता इस दुनिया में नहीं है उसकी मां ने भी दूसरी शादी कर ली है)

क्या है पूरा मामला

loading...

बता दे साडे 16 बरस की नाबालिग गैंगरेप पीड़िता भिलाई के पास में साफ सफाई का काम कर जीवन यापन कर रही थी| उसके पिता का पहले ही स्वर्गवास हो चुका है उसकी मां ने भी दूसरी शादी कर ली है कामकाज के दौरान गैंगरेप की घटना को अंजाम देने वाले तीनों आरोपियों से पीड़िता का परिचय हुआ, तीनों नाबालिक को ज्यादा पैसे में काम दिलाने का लालच दे अप्रैल महीने में राजधानी नया रायपुर लेकर गए| जहां सभी ने नाबालिग के साथ जबरन बारी-बारी से गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया जिसके बाद पीड़िता को छोड़कर आरोपी चले गए| इस बीच नाबालिक अपने रिश्तेदारों के यहां रहने चली गई| जहां 3 महीने की गर्भवती होने पर उसे पूरे मामले की जानकारी हुई| जिसके बाद 7 महीने की गर्भवती होने पर उसने पूरे मामले की जानकारी रिश्तेदारों को दी, रिश्तेदारों ने पूरे मामले की जानकारी आरोपियों को दी तो आरोपियों ने पूरे मामले में नाबालिग कि कहीं और शादी करवाने का झांसा दे उसे धमतरी बुलाकर वापस रायपुर ले जाते समय 24 दिसंबर की रात तीनों दरिंदों ने नाबालिग को जबरन कार में बैठाकर गैंगरेप की घटना को अंजाम दे| किसी से भी बताने पर जान से मारने की धमकी दे घर के पास छोड़कर फरार हो गए|

मामला दर्ज, तीनों आरोपी गिरफ्तार

पुलिस के मुताबिक पीड़िता की तहरीर पर राखी थाने में मामला दर्ज कर दुर्ग जिले के रहने वाले तीनों आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप यानी कि 376 डी, 506, 34, के साथ पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर 48 वर्षीय परशुराम, 39 वर्षीय तरुण व 27 वर्षीय राजेश को गिरफ्तार किया है| पुलिस ने बताया कि अप्रैल महीने में पीड़िता को काम के ज्यादा पैसा दिलाने का लालच देकर आरोपी कार से ले जाकर पीड़िता के साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया| जिसके बाद दोबारा 7 माह की गर्भवती होने पर किसी और से शादी करवाने का झांसा दे पीड़िता को दोबारा जबरदस्ती कार में बैठाकर दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया है|

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here