पूरी दुनिया में कोविड-19 की सेकंड लहर से दहशत के बाद सेकंड लहर का सबसे अधिक प्रभाव भारत पर देखा जा रहा है। यहां वर्तमान में 400000 से अधिक मामले सामने आ रहे हैं इसके लिए कम क्षेत्रफल में ज्यादा जनसंख्या के साथ महामारी से निपटने के लिए बनाई गई सरकारी नीतियां भी कुछ हद तक जिम्मेदार है। अधिकतर नीतियां केवल कागजों पर दिख रही है जमीनी स्तर पर इनका खासा प्रभाव नहीं दिख रहा है बेशक कागजों में मौसम गुलाबी है जमीनी हकीकत बिल्कुल अलग है एक तरफ अस्पतालों में जगह नहीं, तो दूसरी तरफ ऑक्सीजन की कमी की वजह से मरीजों की बड़ी संख्या में मौतें हो रही है।

भारत दिन पर दिन चीन के वुहान शहर की सीफूड मार्केट से निकले अदृश्य कोविड-19 वायरस से पूरी दुनिया परेशान है वर्तमान में सभी रिकॉर्डो को ध्वस्त करते हुए भारत में सबसे अधिक कोविड-19 के प्रतिदिन केस सामने आ रहे हैं कुल सक्रिय मामलों में अमेरिका के बाद भारत नंबर 2 पर पहुंच चुका है विगत 24 घंटे में भारत में 412,618 कोविड-19 से नए संक्रमित मरीज मिले हैं। जबकि 3982 की कोविड-19 की वजह से मौत हो गई है

अब तक भारत में कुल 2 करोड़ 10 लाख 70 हजार 852 कुल सरकारी आंकड़ों में कोविड-19 के केस दर्ज किए गए हैं।

https://twitter.com/ndmaindia/status/1389988510744989699?s=20

भारत में अब तक कोविड-19 की कहर के चलते 230151 लोगों की मौत हो गई जबकि एक करोड़ 72 लाख 69076 लोग कोविड-19 के संक्रमण से ठीक हो चुके हैं वर्तमान में  35,71,625 कोविड-19 के सक्रिय मामले है जबकि इनमें से 8944 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here