loading...

बीजेपी ने पांच राज्यों में विधानसभा 2022 की चुनावी शुरुआत करते हुए बुधवार को प्रेस विज्ञप्ति जारी कर केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान को उत्तर प्रदेश चुनाव प्रभारी नियुक्त करते हुए एक साथ कई समीकरण साधते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर, अर्जुन राम मेघवाल, अन्नपूर्णा देवी, संजय सरोज पांडे, शोभा करंदलाजे, सांसद विवेक ठाकुर व हरियाणा सरकार में पूर्व मंत्री कैप्टन अभिमन्यु को सह प्रभारी नियुक्त करते हुए बीजेपी ने चुनावी समीकरण के साथ जातिगत समीकरण को साधते हुए सभी रणनीतियों का ख्याल रखा है।
बीजेपी ने चुनावी टीम के जरिए जाति और सियासी समीकरण एक साथ साधने की कोशिश करते हुए ओबीसी समुदाय से आने वाले धर्मेंद्र प्रधान को यूपी चुनाव की कमान सौंपकर ओबीसी वर्ग पर बड़ा दांव खेलते हुए लुभाने की कोशिश की है इस चुनाव में सबसे बड़े जनाधार वाले ओबीसी वर्ग पर बीजेपी की खासी नजर है। माना जा रहा है पिछड़े वर्गों को अपने पाले में खींचकर बीजेपी समाजवादी पार्टी के दावों को बेअसर करते हुए करते हुए उनके कोर- वोट बैंक पर नजर गड़ाए हुए हैं 2000 17 के चुनाव में इसी वर्ग में बीजेपी की नैया को पार लगाया था उत्तर प्रदेश में ब्राह्मणों की नाराजगी को दूर करने का जिम्मा सरोज पांडे के कंधों पर डाला गया है वह बीजेपी की तेजतर्रार नेता मानी जाती है।

वही बिहार से सटे उत्तर प्रदेश के भूमिहार ओ को साधने का काम बिहार के दिग्गज नेता सीपी ठाकुर के बेटे राज्यसभा सदस्य विवेक कुमार के कंधों पर डालते हुए बीजेपी ने वाराणसी गाजीपुर मऊ बलिया आजमगढ़ जौनपुर मैं बीजेपी को मजबूत करने के लिए उन्हें लगाया है।

किसान आंदोलन के चलते पश्चिमी यूपी में बीजेपी का पूरा समीकरण बिगड़ रहा है जिससे साधने के लिए हरियाणा के पूर्व मंत्री और जाट समाज में अपनी पकड़ रखने वाले कैप्टन अभिमन्यु को यूपी चुनाव प्रभारी नियुक्त करके बीजेपी ने उन्हें साधने का जिम्मा सौंपा है पश्चिमी उत्तर प्रदेश का यह जाट बहुल इलाका हरियाणा से सटा हुआ है।

बीजेपी ने समाजवादी पार्टी कोर वोट बैंक को साधने के लिए, महिला नेता को दी जिम्मेदारी

loading...

उत्तर प्रदेश के जातीय समीकरण में समाजवादी पार्टी की कोर वोट जाने वाले यादव वोट बैंक को साधने के लिए इसे समुदाय से आने वाली अन्नपूर्णा देवी को उत्तर प्रदेश चुनाव सहप्रभारी बनाकर बीजेपी ने नहले पर दहला चल दिया है। बीजेपी जल्द उत्तर प्रदेश में 1 यादव का बड़ा सम्मेलन कराने वाली है।

राजस्थान से सटे दलित वोट बैंक की केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघावाल को सौंपी गई जिम्मेदारी

उत्तर प्रदेश इन्हीं पूरे देश में 22 फीट भी दलित मतदाता किसी भी पार्टी का राजनीतिक खेल बिगाड़ने की पूरी ताकत रखता है इसीलिए राजस्थान से सटी सीमा के दलित वोट बैंक को साधने के लिए केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल को सहप्रभारी बनाकर बीजेपी ने दलित वोट बैंक पर अपनी पकड़ को मजबूत करने की कोशिश की है।

बीजेपी ने पंजाब गोवा उत्तराखंड मणिपुर में इनको चुनाव प्रभारी नियुक्त किया है

पंजाब के लिए केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को प्रभारी जबकि केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी मीनाक्षी लेखी सांसद विनोद चावड़ा को जिम्मेदारी देते हुए शाह चुनाव प्रभारी बनाया गया है।

loading...

उत्तराखंड की कमान केंद्रीय मंत्री पहलाद जोशी को सौंपी गई है यहां सांसद लॉकेट चटर्जी और पार्टी के प्रवक्ता सरदार आरपी सिंह को सह प्रभारी नियुक्त किया गया है।

गोवा की जिम्मेदारी महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को सौपते हुए चुनाव प्रभारी नियुक्त किया गया है।

loading...

वहीं मणिपुर की कमान सौंपते हुए भूपेंद्र यादव को चुनाव प्रभारी बनाया गया है उनके साथ केंद्रीय मंत्री प्रतिमा भौमिकी और आसाम के मंत्री को चुनाव सा प्रभारी नियुक्त किया गया है बता दे उत्तर प्रदेश पंजाब उत्तराखंड गोवा मणिपुर समेत 5 राज्यों में 2022 की पहली तिमाही में चुनाव होने हैं। इन पांच राज्यों में से पंजाब को छोड़कर चारों राज्य में बीजेपी की सरकार है एकमात्र पंजाब है जहां कांग्रेस की पूर्ण बहुमत वाली कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व वाली सरकार है।

loading...