loading...

फोटो क्रेडिट-बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के वेरीफाई टि्वटर अकाउंट से

देश के सबसे बड़े सुबे उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड पंजाब गोवा मणिपुर समेत देश के 5 राज्यों में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी की केंद्रीय टीम के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गृह मंत्री अमित शाह बीजेपी के राष्ट्रीय जेपी नड्डा लगातार मंथन के साथ रणनीति बनाने में जुट गए हैं 2019 में लगातार देश की सत्ता पर दूसरी बार काबिल हूं प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अब तक अपने केंद्रीय मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं किया है अब अटकलों का बाजार गर्म है कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव को देखते हुए केंद्रीय मंत्रिमंडल का विस्तार कर फेरबदल किया जाएगा सीएम योगी आदित्यनाथ के 2 दिन के दौरे से भी जोड़कर देखा जा रहा है फिर हाल यूपी चुनाव को लेकर बीजेपी केसर से नेताओं के बीच गुप्त मंत्रणा में बैठकर शुरू हो गई हैं बीजेपी अपने सहयोगी दलों के साथ चुनाव को लेकर रणनीति बनाने में जुट गई है दूसरी तरफ आवाजाही का खेल शुरू हो गया है राजनीतिक हवा के रुख को कोप रखते हुए नेताओं ने दल बदली शुरू कर दी है सभी राजनीतिक दल अपने-अपने को रोडवेज को साधने की कवायद में लग जमीनी वोट बैंक को मजबूत करने में जुटे हैं राजनीतिक जातिगत समीकरण बन और बिगड़ रहे हैं इसी बीच प्रधानमंत्री निवास यानी लोक कल्याण मार्ग प्रधानमंत्री मोदी के साथ राष्ट्र से जेपी नड्डा गृह मंत्री अमित शाह के बीच कई दौर की बैठकें चल चुकी है यूपी की राजनीतिक उथल-पुथल और चर्चाओं के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की गैरमौजूदगी में चर्चा उन्हें इस बार केंद्र की बड़ी जिम्मेदारी की ओर इशारा कर रही है उत्तर प्रदेश उत्तराखंड पंजाब गोवा मणिपुर समेत पांच राज्यों में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी के शीर्ष नेताओं ने कमर कसते हुए अच्छे प्रदर्शन की रणनीति बनाकर कमल खिलाने की तैयारी में जुट गये है इन 5 राज्यों में से चार राज्यों में भाजपा की सरकार है एकमात्र पंजाब है जहां कांग्रेस कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व वाली सरकार अंतर खाने सियासी उथल-पुथल के बीच काम कर रही है इन पांच राज्यों के चुनाव के कुछ अंतराल बाद गुजरात और हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने हैं कोविड-19 और किसान आंदोलन के बीच बीजेपी के सामने अपनी सरकार को बचाने की बड़ी चुनौती हैं।

loading...

पश्चिम बंगाल के चुनावी परिणामों से बीजेपी के मनोबल पर पड़ा प्रभाव

हाल ही में संपन्न पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में बीजेपी को करारी शिकस्त मिलने के बाद मनोबल पर विपरीत प्रभाव पड़ता हुआ दिख रहा है दूसरी तरफ 4 साल से बीजेपी के पाले में आए मुकुल राय टीएमसी यानी सर्वभारती तृणमूल कांग्रेस में वापस चले गए हैं। पश्चिम बंगाल चुनाव में कमल खिलाने के लिए बीजेपी ने अपनी पूरी ताकत पश्चिम बंगाल में केंद्रीय नेतृत्व के साथ झोंक दी ममता बनर्जी के आगे कोई रणनीति काम नहीं आई। अब बीजेपी पश्चिम बंगाल में पिछले सालों की तुलना में अच्छा प्रदर्शन करते हुए मुख्य विपक्षी पार्टियों में शामिल हो गई है। सोनिया गांधी के नेतृत्व वाली कांग्रेस और पश्चिम बंगाल में एक छत्र लंबे समय तक राज्य करने वाली मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी का लगभग सूपड़ा साफ हो गया है। वोट प्रतिशत में भी भारी गिरावट दर्ज की गई है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here