loading...

झारखंड के हजारीबाग जिले के दारु थाना क्षेत्र करमा पर्व के दौरान आर्केस्ट्रा के आयोजन के बीच भोर 4 बजे सौंच के लिए गई। नाबालिग को गांव के 5 लोगों ने अगवा कर गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया हालत बिगड़ने पर परिजनों को हुई जानकारी। गंभीर हालत में पीड़िता एसबीएमसीएच हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

loading...

झारखंड के हजारीबाग जिले के दारू थाना क्षेत्र में शौंच के लिए गई इंटरमीडिएट की दलित छात्रा से गांव के ही 5 लोगों ने जबरन अगवा करते हुए हैवानियत कर बारी बारी से गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया गया है। पीड़िता की हालत बिगड़ने पर सोमवार को शेख भिखारी मेडिकल कॉलेज ले जाया गया जिसके बाद परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

पीड़िता के मुताबिक गांव के ही 5 लोगों ने गैंगरेप करते हुए घटना की वीडियो बनाकर उसे धमकी दी थी किसी को घटना की जानकारी दी तो उसका वीडियो वायरल कर देंगे। वीडियो वायरल होने के डर से पीड़िता के मुताबिक उसने परिजनों को घटना की जानकारी नहीं दी थी। पुलिस ने पीड़िता के बयान के आधार पर गांव के ही आशीष, दीपक, विनोद एवं दो अन्य खिलाफ मामला दर्ज कर कार्यवाही की बात कहीं है।

क्या है पूरा मामला, हालत बिगड़ने तक डर के मारे खामोश रही पीड़िता

लड़की के बयान के मुताबिक 18 सितंबर की सुबह 4:00 बजे उसके साथ दरिंदगी की घटना अंजाम दी गई थी। वह अपने गांव की दो अन्य लड़कियों के साथ सुबह शौच के लिए निकली इसी बीच 5 लड़कों द्वारा उनका बाइक से पीछा किया गया लड़कों का पीछा करता देख दोनों लड़कियां भाग गई और लड़कों ने उसे पकड़कर बाइक पर जबरन बैठाकर सुनसान जगह पर ले जाकर बारी-बारी से हैवानियत की घटना को अंजाम दिया जिसके बाद वीडियो बनाते हुए डर धमकी देकर उसे आशीष और विनोद उर्फ गुमला घर पहुंचा कर धमकी दी किसी को बताया तो वीडियो वायरल कर देंगे।

हजारीबाग पुलिस के मुताबिक 24 घंटे में 3 की हुई गिरफ्तारी दो की गिरफ्तारी के प्रयास जारी
loading...

पीड़िता के मुताबिक- लोक लाज शर्म के मारे वह चुप रही। लेकिन जब स्वास्थ्य खराब होने लगा तो उसने परिजनों को जानकारी दी। जिसके बाद उसे इलाज के लिए भर्ती कराकर सोमवार को मेडिकल जांच कराई गई। पूरे मामले पर स्थानीय लोगों में पूरी घटना को लेकर भारी आक्रोश है कि राजनीतिक संगठन घटनों ने आरोपियों के खिलाफ तत्काल गिरफ्तारी की कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं।

loading...