loading...

उत्तर प्रदेश के झांसी में बीजेपी नेता प्रदीप सरावगी की गुंडागर्दी SP CITY विवेक त्रिपाठी की कलर पकड़ने के बाद गिरा-गिराकर जमकर पीटा, जिस समय बीजेपी नेता प्रदीप ने sp सिटी से मारपीट की उस दौरान वहां पर सत्ताधारी bjp के कई विधायक मौजूद थे। लेकिन किसी ने बीच-बचाव कर मामले को शांत कराने (कानून व्यवस्था बनाए रखने की) कोशिश नहीं की। बता दें कि यह पूरा मामला झांसी में एमएलसी चुनाव के दौरान उस समय सामने आया जब बीजेपी हार रही थी। समाजवादी का प्रत्याशी आगे चल रहा था। अपनी हार को नजदीक देखकर झांसी के दो भाजपा विधायक पहुंचे और बवाल करने लगे। उन्हें शांत कराने के लिए पुलिस वालों ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो सत्ताधारी पार्टी के नेताओं ने पुलिस वालों का डंडा छीनकर उन्हें ही मारने लगे। ऐसा लग रहा था कि जैसे वह कोई नेता नहीं बल्कि गुंडे है इन नेताओं का हौसला इतना बढ़ गया कि अपनी हार को देखते हुए उन्होंने भारी पुलिस बल के सामने एसपी सिटी तक को पीट डाला तो आम नागरिकों के साथ या कैसा व्यवहार करते होंगे इसकी आप कल्पना बखूबी कर सकते हैं ?

पूरे मामले पर पत्रकार रोहणी सिंह ने वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा

दृश्य डराने वाले हैं, भाजपा का एक नेता SP सिटी विवेक त्रिपाठी को खुले आम पीट रहे हैं।

खैर सत्ता के आगे घुटने टेक कमज़ोरों पर अत्याचार करने वाली, गरीबों का चालान काटने वाली, पत्रकारों पर मुक़दमे लिखने वाली उत्तरप्रदेश पुलिस अपनी इस हालत की ज़िम्मेदार खुद है। वक्त रहते सबक लीजिए।

loading...

पूरे मामले पर स्पष्टीकरण के साथ सफाई देते हुए विवेक तिवारी

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here