loading...

उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर प्रशासन और पुलिस के दावों से अलग जमीनी स्तर पर अपराधियों के हौसले दिन पर दिन बुलंद होते जा रहे हैं। विगत 12 घंटे में कानपुर शहर चार हत्याकांड से दहल उठा समाजवादी नेता की गोली मारकर हत्या के बाद फजलगंज में एक ही परिवार के तीन (माता पिता और 10 वर्षीय बेटे की धारदार हथियार से निर्मम हत्या कर दी गई) कानून व्यवस्था का आलम यह है कि चौराहे पर बेखौफ बदमाश दौड़ा कर गोलियां मार रहे हैं। प्रशासन द्वारा कमिश्नरी लागू करने के बाद 11 आईपीएस तैनात कर कानून व्यवस्था को काबू करने की बात की जा रही है लेकिन जमीनी स्तर पर अपराधिक वारदातें कम होने के बजाय लगातार ग्राफ बढ़ती जा रहा है।

फजलगंज में पति पत्नी 10 वर्षीय बेटे की धारदार हथियार से निर्मम हत्या, बदमाश बाइक लेकर फरार

कानून व्यवस्था के नाम पर आई प्रदेश की योगी सरकार में कानून व्यवस्था की स्थिति बद से बदतर होती जा रही है। कानून व्यवस्था सुधारने के लिए लाई गई कमिश्नरेट प्रणाली भी बदमाशों के बुलंद हौसले के आगे बौनी साबित हो रही है। कानपुर शहर के फजलगंज में शनिवार को एक दंपति उनके 12 साल के बेटे की बेखौफ बदमाशों द्वारा धारदार हथियार से गला रेत कर बेरहमी से हत्या कर बदमाश मृतक की बाइक लेकर फरार हो गए पूरी घटना की जानकारी के बाद इलाके में सनसनी फैल गई। एक साथ तिहरे हत्याकांड की जानकारी के बाद कानपुर पुलिस फॉरेंसिक टीम के साथ पहुंचकर पूरे मामले की सीसीटीवी फुटेज समेत खोजबीन करने में जुट गई है। अभी तक किसी अपराधी का कोई सुराग नहीं मिल सका है।

loading...

क्या है पूरा मामला

कानपुर शहर के फजलगंज के उंचवा मोहल्ले के रहने वाले प्रेम किशोर घर के आगे किराने की दुकान चलाया करते थे उसके पीछे उनके घर में उनकी पत्नी गीता और 12 साल का बेटा नैतिक रहता था उनके दो बड़े बेटे उनके बड़े भाई राजकिशोर के साथ गुमटी क्षेत्र में रहते थे उनकी परचून की दुकान पर रोज की तरह शनिवार की सुबह दूध डेयरी की गाड़ी आई और दूध के पैकेट उतार कर चली गई। सुबह 7:00 बजे तक जब किराना स्टोर नहीं खुला तब पड़ोसी ग्राहकों ने प्रेम किशोर के बड़े भाई गुमटी निवासी राज किशोर सिंह को फोन कर जानकारी दी। प्रेम किशोर ने अपने छोटे भाई बर्रा निवासी प्रेम सिंह को फोन किया। लेकिन जब फोन नहीं उठा तो उन्होंने खुद मौके पर पहुंचकर पूरी स्थिति जानी। जब वह घर के अंदर पिले तो उनके होश उड़ गए उन्होंने भाई प्रेम किशोर उनकी पत्नी गीता बेटे नैतिक के रस्सी से बंधे खून से लथपथ शव देखा। जब उन्होंने कंबल उठाया खून देखकर बदहवास स्थिति में पुलिस को फोन कर वारदात की जानकारी दी। कानपुर पुलिस ने फॉरेंसिक टीम के साथ पहुंचकर शवों के पंचनामे करा पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। प्रथम दृष्टि देखने पर बच्चे का मुंह पॉलिथीन से बंधा था जबकि पति पत्नी के शरीर पर काफी चोट के निशान मौजूद थे पुलिस के मुताबिक घटना को किसी परिचित द्वारा अंजाम दिया गया हो सकता है पुलिस द्वारा आसपास सीसीटीवी फुटेज के साथ अन्य बिंदुओं पर लोगों से पूछताछ कर जानकारी इकट्ठा की जा रही है।

कानपुर में एक साथ घटित तेहरे हत्याकांड से आसपास के लोग काफी डरे हुए हैं अगर बात की जाए विगत 50 घंटे की तो कानपुर शहर में 6 हत्याएं हो चुकी है। विगत 12 घंटे में ही कानपुर शहर के अंदर समाजवादी युवा मोर्चा के नेता की हत्या समेत 4 हत्याएं होने से हड़कंप मच हुआ है।

loading...

loading...