loading...

नई दिल्ली- किसानों के प्रतिनिधि व देश के गृह मंत्री अमित शाह के बीच मंगलवार रात मुलाकात के बाद भी किसानों के बीच गतिरोध कम होने के बजाय talkhi और अधिक बढ़ती हुई नजर आई, फिलहाल बैठक बेनतीजा रही नए कृषि कानूनों को लेकर किसानों ने लगातार सरकार से नए कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग की, किसानों ने बताया कि सरकार कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए तैयार नहीं है; सरकार के द्वारा एक प्रस्ताव मिलेगा जिसके बाद बुधवार की बैठक में किसान नेताओं और सरकार के बीच प्रस्ताव के बाद चर्चा होगी, किसान नेता ने बताया कि गृह मंत्री अमित शाह ने लिखित प्रस्ताव देने की बात कही है वह संशोधन के लिए तैयार हैं यह  प्रस्ताव संशोधन के लिए सरकार द्वारा उन्हें दिया जाएगा| जिस पर कल सभी किसान संगठन आपस में बातचीत करने के बाद आंदोलन को किसानों द्वारा आपस में विचार विमर्श करने के बाद (प्रस्ताव को लेकर कल 12:00 बजे सिंधु बॉर्डर पर बैठक होगी) उन्होंने बताया किसानों व  सरकार के बीच कई दौर की बातचीत हो रही है अभी तक सरकार की तरफ से रेल मंत्री पीयूष गोयल क़े  बाद कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर बातचीत कर रहे थे, लेकिन मंगलवार को गृह मंत्री अमित शाह ने 13 किसान संगठनों के नेताओं को बातचीत के लिए दिल्ली स्थित इंडियन काउंसिल आफ एग्रीकल्चरल रिसर्च के गेस्ट हाउस में बैठक के लिए बुलाया, जिसके बाद सरकार की तरफ से गृह मंत्री अमित शाह किसानों के प्रतिनिधि के रूप में 13 किसान नेताओं ने सरकार से कृषि कानूनों को लेकर बातचीत की फिलहाल गृह मंत्री अमित शाह से बातचीत के बावजूद किसान व सरकार के बीच का गतिरोध दूर नहीं हुआ है, बता दें 26 नवंबर को किसानों के दिल्ली कूच के बाद आज 13वा  दिन है लगातार भारत बंद के साथ ही आंदोलनकारी किसान दिल्ली से सटी सीमाओं को घेर कर बैठे हुए हैं मुख्य तौर पर दिल्ली हरियाणा की सीमा पर सिंधु बॉर्डर पर बड़ी संख्या में किसान नेताओं व सरकार के बीच कई बार की बातचीत बेनतीजा हो चुकी है फिलहाल भारत बंद के बावजूद पूरे मामले का हल निकलता हुआ नजर नहीं आ रहा है, कल सरकार कि तरफ  से  कृषि कानून को लेकर किसानों को प्रस्ताव पत्र दिया जाएगा, जिसमें संशोधन के लिए किन-किन चीजों पर सरकार तैयार है आदि से संबंधित जानकारी होगी, वही कई किसान नेताओं ने बताया कि सरकार के प्रस्ताव देने के बाद कल की बैठक रद्द कर दी गई है, इसके बारे में सरकार की तरफ से कोई भी अधिकारीक  सूचना नहीं दी गई है कि कल होने वाली बैठक आखिर कब होगी ?

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here