loading...

उत्तर प्रदेश के चित्रकूट में आतंक या दूसरा पर्याय बन चुके गौरी यादव को उत्तर प्रदेश के स्पेशल टास्क फोर्स ने आज सुबह तड़के 4:00 बजे हुए एनकाउंटर में मार गिराया गौरी यादव पर मध्य प्रदेश सरकार ने 50000 जबकि उत्तर प्रदेश सरकार ने 500000 का इनाम रखा था यानी कुल मिलाकर साढ़े 5 लाख के इनामी कुख्यात गौरी यादव को मार गिराते हुए STF ने उसके पास से एक एके-47 एक सेमी ऑटोमेटिक राइफल, एक 12 बोर की बंदूक और दो कट्टे बरामद किए हैं।

loading...

चित्रकूट के बहिलपुरवा थाना क्षेत्र के माधव के पास पुलिस को जानकारी मिली थी कि गांव में कुख्यात डकैत आया हुआ है जिसके बाद दोनों ओर से घेर कर पुलिस ने सैकड़ों राउंड फायरिंग के बाद गौरी यादव को एनकाउंटर में मार गिराया। इनकाउंटर एडीजी अमिताभ यश की अगुवाई में हथियारों का जखीरा बरामद हुआ है।

2005 में बनाया था अपना गैंग, बीहड़ में नाम से ही खौफ खाते थे लोग

loading...

20 साल पहले अपराध जगत में आए गौरी यादव का बीहड़ में इस कदर दहशत का नाम बना रखा था की लोग ददुआ और ठोकिया के बाद इसके नाम से डरते थे। 2005 में ठोकिया के मारे जाने के बाद 2009 में गौरी यादव को पुलिस ने गिरफ्तार किया इसके बाद जमानत के बाद वह आजाद हो गया। फिर अपराध का पर्याय बन चुका गौरी यादव की तलाश उत्तर प्रदेश व मध्य प्रदेश पुलिस लंबे समय से कर रही थी। गौरी यादव उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिले के बहिलपुरवा थाना क्षेत्र के बेलहरी गांव का रहने वाला था।

शुक्रवार देर रात उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स को सूचना मिली गौरी यादव गांव में छिपा है जिसके बाद ऑपरेशन चलाकर उत्तर प्रदेश सिटी अपनी सड़क के 3:30 बजे के करीब ऑपरेशन चलाकर कुख्यात डकैत को बहिलपुरवा थाना क्षेत्र के माधव के पास सैकड़ों राउंड गोलीबारी के बाद मार गिराया है।

loading...

विशाल गुप्ता की रिपोर्ट…..

loading...