loading...

उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में रविवार शाम करीब 4:00 बजे आकाश बिजली गिरने से जानवर चराने गए तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि 6 जख्मी हो गए सीएम ने पूरे मामले का संज्ञान लेते हुए दुख जातते हुए जिलाधिकारी रायबरेली को मृतकों के परिजनों को चार चार लाख ₹ आर्थिक सहायता यानी मुआवजा देने का निर्देश दिया हैं।

रायबरेली जिले के सलोन क्षेत्र में रविवार शाम जानवर चराने गए लोग खराब मौसम के चलते कड़कती बिजली के बीच पेड़ के नीचे बारिश से बचने के लिए आश्रय लिया, अचानक आकाशी बिजली का कहर पेड़ पर टूटा जिसकी चपेट में आने से 17 वर्षीय अंजली की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि जख्मी दीपांशी 12 वर्ष व कमला 55 वर्ष की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। इस हादसे में रमापति गोलू कुमकुम समेत छह लोग गंभीर रूप से झुलस गए जिनमें से प्रीति पूर्णिमा रामापति को इलाज के बाद घर भेज दिया गया है। सुबे के सीएम योगी आदित्यनाथ ने घटना पर दुख जताते हुए जिला प्रशासन को मृतकों के परिजनों को चार- 4 लाख रुपए बतौर आर्थिक सहायता यानी मुआवजा राशि देने का निर्देश दिया है। सालोन के एसडीएम आशीष सिंह ने बताया कि गोठिया तिवारीपुर गांव के पास लोग जानवर चरा रहे थे तभी शाम अचानक बारिश होने के चलते लोग बचने के लिए एक पेड़ के नीचे चले गए जिस पर बिजली गिरने की वजह से 17 वर्षीय अंजली की मौके पर मौत हो गई। जख्मी शिवांशी कमला ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। अन्य तीन इस हादसे में झुलस लग गए हैं।

loading...

क्या है मामला

बता दे रविवार शाम रायबरेली के सलोन कोतवाली क्षेत्र की गोठियां तिवारीपुर गांव में लोग जानवर चराने गए, अचानक 4:00 बजे तेज बारिश होने के चलते लोगों ने भीगने से बचने के लिए पेड़ का आश्रय लिया इसी दौरान पेड़ पर अचानक आकाशी बिजली का कहर टूटा अकाशी बिजली की चपेट में आने से अंजलि दीपांशी व कमला की मौत हो गई। जबकि छह गंभीर घायल हो गए हैं जिन्हें एंबुलेंस से जिला अस्पताल ले जाया गया। जिनमें से 3 लोगों को प्राथमिक उपचार के बाद शाम को छुट्टी दे घर भेज दिया गया है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here