उत्तर प्रदेश में अपराधियों का का खौफ थमने का नाम नहीं ले रहा, शनिवार सुबह 9:00 बजे पारा थाना इलाके के सरोसा गांव में खेल रही बच्ची कुछ देर बाद घर जाने को निकली। लेकिन रास्ते में रहस्यमई हालत में लापता हो गई। जिसके बाद शाम 4:00 बजे जब उसके पिता घर पहुंचे तो उन्हें पता चला कि बेटी अभी घर नहीं आई है उसके बाद खोजबीन की गई बच्ची का कुछ पता नहीं लगा कुछ देर बाद शारदा नहर किनारे कीचड़ में चप्पल और कपड़े बरामद होने के बाद खोजबीन के बाद देर रात करीब 4 घंटे बाद गोताखोरों की मदद से करीब 250 मीटर दूर शारदा नहर में अर्धनग्न अवस्था में बच्ची का शव बरामद होने के बाद पुलिस ने उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

शव की स्थिति देखने के बाद परिजनों ने बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या किए जाने की आशंका जताई है बता दे काफी देर तक खोजबीन करने के बाद बच्ची का शव बरामद हुआ बालिका के शरीर के नीचे कोई भी कपड़े नहीं थे। कीचड़ से उसकी लेंगी व चप्पले बरामद हुई बालिका के परिजनों के मुताबिक उनकी बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या की गई है। प्रत्याशियों के मुताबिक बच्चे के गले में चेहरे पर चोट के निशान थे ।

डीसीपी दक्षिण के मुताबिक ऐसा प्रतीत होता है कि बच्ची शौच के लिए गई थी इस दौरान नहर में पैर फिसलने की वजह से वह डूब गई और उसकी मौत हो गई। उनके मुताबिक बालिका के शरीर पर चोट के कोई निशान नहीं मिले हैं।

बता दे पारा थाना क्षेत्र के सरोसा गांव निवासी पीड़ित का पिता सड़क किनारे नहर के चौराहे पर दुकान चलाता है प्रतिदिन की भांति शनिवार सुबह दुकान से 12 वर्षीय बच्ची घर जाने की बात कहकर निकली लेकिन वह घर नहीं पहुंचे जिसके बाद शाम 4:00 बजे पहुंचे पिता ने बच्चे की काफी खोजबीन की लेकिन उसका कोई सुराग नहीं मिला शाम को बच्चे को खोजते समय नहर किनारे ढाई सौ मीटर पर लेगी व चप्पले बरामद हुई जिसके बाद गोताखोरों ने खोजबीन की करीब ढाई सौ मीटर दूर बच्ची का शव बरामद हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here