loading...

उत्तर प्रदेश 2005 में बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय की हत्या के प्रमुख आरोपी मुख्तार अंसारी व मुन्ना बजरंगी गुटके बेहद करीबी राकेश पांडे और हनुमान पांडे को यूपी एसटीएफ ने लखनऊ के सरोजनी नगर इलाके में हुई मुठभेड़ के बाद मार गिराया है। बता दे हनुमान पांडे के सर पर कई संदिग्ध मामले व 100000 का इनामी था। कोपागंज का रहने वाला राकेश पांडे उर्फ हनुमान पांडे मुख्तार अंसारी गुट का शार्प शूटर था। जानकारी के मुताबिक वह सक्रिय सदस्य उसके ऊपर मुख्तार के साथ मिलकार ठेकेदार जयप्रकाश सिंह समेत कई की हत्या मामले में संदिग्ध भूमिका थी।

2005 चर्चित बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय हत्याकांड का आरोपी

loading...

मुख्तार अंसारी के खिलाफ मऊ से चुनाव जीतकर आए बीजेपी नेता कृष्णानंद राय को 29 नवंबर 2005 को शाम 4:00 बजे फर्जी क्रिकेट मैच के उद्घाटन करने के लिए धोखे से करीमुद्दीनपुर इलाके के सुनारी गांव बुलाया गया व बारिश का दिन था। जल्दबाजी में बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय अपनी बुलेट प्रूफ गाड़ी को छोड़कर सामान्य गाड़ी से मैच उद्घाटन करने चले आए। पहले से तैयार सभी आरोपियों ने फर्जी क्रिकेट मैच उद्घाटन से वापस लौटते समय बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय वहां से अपने गांव गोडउर लौट रहे थे तभी बसनियां चट्टी गांव के पास उनके काफिले पर एके-47 से ताबड़तोड़ सैकड़ों गोलियां बरसाई जिसमें बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय समेत सात लोगों की मौत हो गई थी।

लखनऊ के सरोजनी नगर में पुलिस एसटीएफ की टीम ने मुठभेड़ के दौरान मुख्तार अंसारी व मुन्ना बजरंगी गैंग के भूल गए हनुमान पांडे को ढेर कर दिया।

राकेश पांडे के पिता ने यूपी एसटीएफ पर लगाए गंभीर आरोप

गैंगस्टर राकेश पांडे उर्फ हनुमान के एनकाउंटर मामले पर उनके पिता ने गंभीर सवाल उठाते हुए यूपी एसटीएफ को कटघरे में खड़ा किया है आप वीडियो में बखूबी सुन सकते हैं|

loading...

हनुमान पांडे के पिता बाल दत्त पांडे बता रहे कि शनिवार रात 3:00 बजे यूपी एसटीएफ की टीम उनके बेटे को घर से उठा ले जाकर एनकाउंटर कर दिया है|दूसरी तरफ पेशे से आंगनवाड़ी कार्यकर्ता हनुमान की पत्नी के साथ बच्चों का रो-रो कर बुरा हाल है वह बताती है कि हनुमान पांडे बीमार मां को देखने आता जाता था| लेकिन यूपी पुलिस ने उन पर कब 100000 का इनाम घोषित किया घर वालों को भी नहीं पता है| उन्होंने ने आरोप लगाते हुए बताया रात 3:00 बजे यूपी एसटीएफ की टीम उनके पति को बुलाकर साथ ले जाती उसके बाद सुबह एनकाउंटर की खबर आती है|

loading...

दुनिया जानती है हर जुर्म का दर्दनाक अंत होता है लेकिन उसका एक कानूनी तरीका होता है पूरे प्रशासन को इस मामले में आरोपों की जांच कर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिये|

loading...