loading...

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में एक बच्चे की अंदर एक ऐसे इलेक्ट्रॉनिक पावर विकसित हो गई है कि उसके हाथ में मोबाइल जाते ही बिना किसी बटन को दबाएं मोबाइल का सारा डाटा डिलीट हो जाता है जानू सीधी शब्दों में कहा जाए तो बच्चे की हाथ में स्मार्टफोन पहुंचते ही पूरी तरीके से रिसेट हो जाता है। फोन में मौजूद गैलरी वीडियो सब कुछ अपने आप डिलीट हो जाता है आपको या पढ़कर कुछ अजीब जरूर लग रहा होगा लेकिन यह बात इसमें नहीं ना कल्पना की है यह असलियत में हो रहा है उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ के रहने वाले एक लड़के के साथ डॉक्टरों से पूरे मामले की जांच भी कराई गई बच्चे में किसी प्रकार की कमी नहीं मिली हां बच्चे की जांच करने वाले डॉक्टर न्यूरोलॉजिस्ट के मोबाइल फोन का डाटा भी अपने आप डिलीट हो गया लोग हैरान हैं कुछ लोग तो मोबाइल में वीडियो बनाकर लेकर बच्चे के हाथ में रख कर चेक भी कर रहे हैं कि क्या डिलीट होता है वास्तविकता में सब अपने आप डिलीट हो जा रहा है लोग समझ नहीं पा रहे वाक्य क्या है।

loading...

हजारीबाग में 16 वर्षीय इंटर की छात्रा से गैंगरेप, 5 ने की दरिंदगी गंभीर हालत में पीड़िता एसबीएमसीएच में भर्ती

कौन है बच्चा, जो बना है चर्चा का विषय, छूते ही मोबाइल फोन का डाटा हो जाता है फॉर्मेट

यह अद्भुत बच्चा उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ के रहने वाले गौरव अग्रवाल का पुत्र अस्तित्व अग्रवाल है जिसके साथ यह अजीब वाक्या लगातार घट रहा है इसी वजह से इन दिनों यह बच्चा चर्चा का विषय बना हुआ है पहली बार 12 मई को उनके घर में अचानक यह वाक्या घटा जब अस्तित्व घर के जिस सदस्य का मोबाइल लेता उसके फोन का डाटा अचानक गायब यानी फॉर्मेट हो जाता। घर के कई सदस्यों के साथ ऐसा हुआ उन्होंने बच्चे को डाटा भी की डाटा डिलीट कर दिया। लेकिन पूरे मामले के रहस्य पर्दा नहीं उठा। परिजनों ने मोबाइल फोन कंपनी व सर्विस सेंटर को कॉल किया। वहां से भी कोई हल नहीं निकला। नहीं पता चल सका कि आखिर डाटा क्यों डिलीट हो रहा है। परिजनों को लगातार परेशानी का सामना करते रहना पड़ा।

रक्षाबंधन के लिए जब अस्तित्व की मां अपने मायके गई तो 22 अगस्त को अस्तित्व उनके साथ ननिहाल चला गया। वहां पर भी ठीक ऐसा ही घटनाक्रम सामने आया। रक्षाबंधन के दिन अस्तित्व जिस किसी का भी मोबाइल छूता उनका डाटा उड़ जाता रिश्तेदार अस्तित्व के पास मोबाइल लेकर जाते तो उनका डाटा अपने आप उड जाता। इस घटनाक्रम के बाद सभी लोग हैरान रहा गए। जिसके बाद लोगों को जानकारी हुई कि अस्तित्व के पास जाने वाले मोबाइल का डाटा अपने आप उड जा रहा है। परिजनों व रिश्तेदारों ने चेक किया लोगों को चिंता हुई कोई कमी की वजह से तो ऐसा नहीं हो रहा है उसके बाद जांच वगैरह हुई तब से जस की तस समस्या बनी हुई है अस्तित्व के पिता गौरव के मुताबिक मोबाइल डाटा से ज्यादा चिंता उन्हें अपने बेटे के स्वास्थ्य को लेकर सता रही है अब तो घर में फोन रखना भी दूभर हो गया है।

loading...

कनाडा चुनाव में जस्टिन ट्रूडो की लिबलर पार्टी की लगातार तीसरी बार जीत, लेकिन बहुमत से दूर

12 मई पहली बार शुरू हुई समस्या, रक्षाबंधन को हुआ खुलासा

गौरव के परिजनों के मुताबिक 12 मई को सबसे पहले यह मामला सामने आया। उस दिन अस्तित्व जिस किसी का मोबाइल हाथ में लेता उनका डाटा डिलीट हो गया। जिसके बाद बच्चे को डांटा गया सर्विस सेंटर से बात की गई। पता नहीं चला डाटा क्यों डिलीट हो जा रहा है।

loading...

लेकिन इस बात का खुलासा 22 अगस्त को उस समय हुआ जब अस्तित्व अपने ननिहाल गया रक्षाबंधन के दिन बच्चे के मामा नाना रिश्तेदार जो भी अस्तित्व के पास जाते उनका मोबाइल डाटा अपने आप डिलीट यानी फॉर्मेट हो जाता ऐसा होने के बाद सभी हैरान हो गए। जिसके बाद जानकारी हुई जो भी अस्तित्व के पास गए उनके साथ ही ऐसा हुआ है यानी अस्तित्व के पास जाने से ऐसा होता है फिर उन्हें पिछला घटनाक्रम भी याद आया बच्चे के पिता गौरव के साथ अन्य परिजन भी इस समस्या से हैरान परेशान है कहीं कोई स्वास्थ्य समस्या तो नहीं है।

महंत नरेंद्र गिरि संदिग्ध परिस्थितियों में फंदे से लटकते मिले, आनंद के बाद बेटे समेत कई पुजारी हिरासत में, सीबीआई जांच की मांग

लोग देने लगे फॉरेंसिक जांच का सुझाव, बच्चे की जांच करने वाले डॉक्टरों का भी डाटा हुआ डिलीट

ऐसी समस्या सुनने के बाद कुछ लोग हैरान हैं तो कुछ लोग, बात की सच्चाई जानने के लिए बच्चे के पास दो-चार 10 मिनट का वीडियो लॉकर अपना मोबाइल रख कर चेक कर रहे हैं कि क्या ऐसा वाकई में हो रहा है ? उनकी जांच में सब कुछ डिलीट होता हुआ नजर आया वह भी हैरान है! जब बच्चे की जांच कराने के लिए परिजन डॉक्टरों के पास ले गए तो डॉक्टर द्वारा इलेक्ट्रॉनिक बीपी मशीन से बच्चे की बीपी नापी गई तो उसमें भी इरर का सिग्नल दिखाई दिया यानी इलेक्ट्रॉनिक मशीन एबीपी नहीं बता पा रही है फिर हाल बच्चे अस्तित्व के मुताबिक उसके शरीर में किसी भी प्रकार की समस्या व बदलाव उसे महसूस नहीं हुई है। बस अचानक से उसके हाथ में या समीप आने की वजह से फोन का डाटा गायब हो जाता है कुछ लोग इस मामले की वैज्ञानिक फॉरेंसिक जांच कराने की सलाह दे रहे हैं दूसरी तरफ जब परिजनों ने फिजीशियन और न्यूरो सर्जन से पूरे मामले की जानकारी देकर अस्तित्व की रिपोर्ट दिखाने ले गए। तो उनके फोन का डाटा भी डिलीट हो गया। ऐसा किस वजह से हो रहा है इसका अभी तक पता नहीं लग सका है प्रथम दृष्टि में किसी भी प्रकार की बीमारी होने की पुष्टि तो नहीं हुई है।

लेकिन अस्तित्व के परिजन लगातार इस घटना से डरे हुए हैं कि कहीं ऐसा किसी बीमारी की वजह से तो नहीं हो रहा है कहीं उनकी बच्चे में कोई दिक्कत तो नहीं है परिजन डाटा डिलीट होने से तो नहीं लेकिन इस घटना के बाद बच्चे के स्वास्थ्य और भविष्य को लेकर चिंतित है।

loading...