पीलीभीत नेपाल गए 3 लोगों में से 2 लापता 1 को नेपाल पुलिस ने गोली मारकर शव को लिया कब्जे में, गोली मारने का कारण स्पष्ट नहीं

भारत के अहम पड़ोसी देश नेपाल में पीलीभीत के हजारा से नेपाल घूमने गए तीन भारतीय युवकों में से एक को नेपाल पुलिस ने पिलर संख्या 38 व 39 के बीच गोली मारकर शव को अपने कब्जे में लिया जिसे बिलौरी प्रथमिक अस्पताल में रखा गया है। जानकारी के मुताबिक युवक को गोली मारकर नेपाल पुलिस अपने साथ लेकर गई है। इस घटना के बाद उस युवक के साथ नेपाल गए दो अन्य युवक अभी भी लापता बताए जा रहे हैं घटना की जानकारी के बाद सीओ एसडीएम फोर्स के साथ बॉर्डर पर पहुंच चुके हैं।राघव पुरी पुलिस ने युवक को गोली मारी इस बात की जानकारी मिली है लेकिन यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि थाना हजारा इलाके के तीन युवकों पर किस वजह से नेपाल पुलिस ने गोली मारने के बाद शव को अपने साथ ले गए हैं ।

पीलीभीत पुलिस के मुताबिक थाना हजारा
क्षेत्र के 3 व्यक्तियों द्वारा नेपाल आर्म्ड फोर्स के साथ हुए मतभेद में एक युवक को गोली लगने की घटना घटना हुई इस मामले में पुलिस अधीक्षक ने स्पष्ट करते हुए बताया कि मतभेद के बीच गोली चलाई गई फिलहाल लापता युवकों में से एक युवक जो भारत बचकर आ गया है उससे संपर्क कर पुलिस पूरे मामले को समझने की कोशिश कर संबंध बनाने की कोशिश करेगी। पूरे मामले को समझने के लिए पीलीभीत पुलिस अधीक्षक की वीडियो बाइट देख कर मामले की गंभीरता को समझने की कोशिश करें

लेटेस्ट अपडेट- क्या है पूरा मामला

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत के हाजारा से नेपाल घूमने गए तीन भारतीयों को बहस के बाद नेपाल पुलिस ने अज्ञात कारणों की वजह से दौड़ा कर गोली मारी इस गोलीबारी में एक भारतीय की मौत हो गई, जबकि दो भारतीय लापता हो गए, जिनमें से एक भारतीय अपनी जान बचाकर भारतीय सीमा में आ गया है जबकि दूसरा भारतीय युवक अभी भी लापता बताया जा रहा है। यूपी पुलिस के मुताबिक इस मामले पर फोर्स के साथ पहुंचकर जांच करते हुए नेपाल पुलिस के संपर्क में पीलीभीत पुलिस बनी हुई है। भारत आये युवक से जानकारी प्राप्त करने के बाद पूरे मामले को स्पष्ट किया जाएगा। बॉर्डर पर किसी प्रकार की अशांति की स्थिति नहीं है।

आगरा B.Ed फर्जीवाड़े में 168 शिक्षक बर्खास्त, टेंपर्ड मार्कशीट वाले 54 शिक्षकों पर फैसला जल्द

उत्तर प्रदेश के आगरा में B.Ed फर्जीवाड़े में 800 शिक्षकों को बर्खास्त किया गया है बेसिक शिक्षा विभाग जल्द इस मामले में एफ आई आर दर्ज करेगा अब तक 812 शिक्षकों की सूची में से 192 को बर्खास्त किया जा चुका है 24 को पहले एफ आई आर दर्ज की गई थी इस मामले में टेंपल मार्कशीट वाले 54 शिक्षकों पर विश्वविद्यालय 4 महीने में फैसला लेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here