loading...

पोर्न इंडस्ट्री इस हसीन दुनिया का वो काला सच जिससे हर कोई वाकिफ नहीं है हम इस पूरे लेख के जरिए आपके सामने लाने की कोशिश करेंगे। बता दे अधिकतर इस पेशे में लाई गई लड़कियों को यह मालूम ही नहीं होता है कि उन्हें किस दलदल में धकेला जा रहा है जब तक वह इसे समझ पाती हैं तब तक वह पोर्न इंडस्ट्री के इस दलदल में पूरी तरीके से फंस चुकी होती है। Porn Industry That dark truth of this beautiful world that not everyone is aware of, we will try to bring it to you through this entire article. Let me tell you that most of the girls brought into this profession do not even know in which quagmire they are being pushed.

इन जवान हसीन दिलकश अदाकाराओ यानी खिलखिलाती लड़कियों (male female) को डिजिटल स्क्रीन पर सेक्स करते देखना बहुत से लोगों के दिल को खुश करते हुए कुछ लोगों को बहुत अधिक सकून देता है। लेकिन असलियत इससे बिल्कुल उलट है उनके नाम में बेशक स्टार लगा हो लेकिन घुटन और नशे के अंधेरे में घुट-घुट कर पॉर्न स्टार जीने को मजबूर है। अधिकतर को इस इंडस्ट्री में धोखे से लाया जाता है उन्हें मालूम ही नहीं होता की वह एक्टिंग और मॉडलिंग की कैरियर में हसीन सपना लेकर आई है लेकिन इन हसीन सपनों के बजाय इन्हें धोखे में जिल्लत भरी जिंदगी मिल रही है। एक बार इस पेशे में कदम रखने के बाद वह लौटकर ना इस पेशे से निकल पाती है ना सामान्य समाज से घुल मिल पाती है। हो सकता है आपने से अधिकतर लोग पॉर्न स्टार वीडियोस को देखकर कुछ घंटों का सुकून महसूस करें। डिजिटल स्क्रीन पर राजी खुशी सेक्स करने वाली इन लड़कियों की असल स्थिति को ना आप लोग अच्छी तरीके से जानते हैं और ना जानना चाहते हैं। बता दे 1 मिनट की पॉर्न वीडियो के लिए उन्हें कई कई बार्बी वीडियो शूट करने पड़ते हैं इनमें काट-छांट एडिटिंग होती है इसके पीछे का काला सच बहुत ही डरावना है इन गतिविधियों में नशीली दवाएं के साथ सेक्स टॉयज का अमानविय तरीके से दुरुपयोग बढ़ता जा रहा है। पॉर्न इंडस्ट्री चलाने वालों को किसी बात से कोई फर्क नहीं पड़ता उन्हें केवल अपने मुनाफे से मतलब है।Seeing these young sexy girls having sex on the digital screen makes many people happy while some people get a lot of relief. But the reality is quite the opposite of this, of course, there is a star in his name, but the porn star is forced to live by suffocating in the darkness of suffocation and intoxication. Most of them are brought into this industry by deception, they do not know that she has brought a beautiful dream in acting and modeling career, but instead of these beautiful dreams, she is getting a life full of deceit. Once she enters this profession, she is neither able to come out of this profession nor mix with the general society. Maybe most of you will feel relaxed for a few hours by watching porn star videos. You guys neither know well nor do you want to know the real condition of these girls who are happily having sex on the digital screen. Let me tell you that for 1 minute porn videos, they have to shoot many Barbie videos, they have cropped editing, the dark truth behind it is very scary, in these activities the abuse of sex toys along with drugs is increasing in an inhuman way. Used to be. Those running the porn industry don’t care about anything, they only care about their profits.

loading...

अब हम आपको जापानी पॉर्न स्टार साकी कोजाई की कहानी आपके सामने रखने जा रहे हैं जॉनी लड़कियों में से एक बात आज से 6 साल पहले की है जब जापान की राजधानी टोक्यो की सड़क पर एक मॉडल स्काउट में साकी कोजाई को जॉब ऑफर दिया गया। उन्हें उस समय लगा कि अच्छे कैरियर के साथ उनका सपना पूरा होने वाला है वर्तमान में 30 वर्षीय साकी कोजाई उस समय महज 24 वर्ष की थी प्रमोशनल वीडियो में काम करने की बात सुनकर बा उत्साहित कॉन्ट्रैक्ट साइन कर लिया। बाद में जब उनका असलियत से सामना हुआ तो प्रोफेशनल वीडियो वाली बात के झांसे में लेकर उन्हें इस पोर्नोग्राफी के दलदल में धकेल दिया गया था। आज 30 वर्षीय साकी कोजाई पोर्न स्टार है लेकिन वह अब उन लड़कियों में शामिल हो चुकी है जो इस डरावने साए से बाहर आकर उन लड़कियों में शामिल है जो खुलकर आवाज उठाते हुए बोल रही है कि वह अपनी मर्जी से इस पोर्नोग्राफी इंडस्ट्री में नहीं गई बल्कि उन्हें हसीन सपने दिखाकर जबरन इस पोर्नोग्राफी इंडस्ट्री के काले धंधे में धकेला गया था। उन्होंने बताया कॉन्ट्रैक्ट साइन करते समय उन्हें नहीं पता था कि जो कंपनी उन्हें काम दे रही है वह कोई मॉडलिंग एजेंसी नहीं है। अमेरिका के बाद जापान की पोर्नोग्राफी इंडस्ट्री दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी पोर्न इंडस्ट्री है जिसका सैकड़ों मिलियन डॉलर का साम्राज्य फैला हुआ है फिरहाल हर किसी के लिए पैसा ही सब कुछ नहीं है। साकी कोजाई की जॉब के पहले दिन जब उनका काम पता चला… कि कैमरे के सामने सेक्स करना है। वह रोते हुए बताती हैं “मैं अपने कपड़े नहीं उतार पाई, मैं सिर्फ रोए जा रही थी, लेकिन वहां के उस दलदल से निकलने का कोई रास्ता नहीं था। मेरे आस-पास खड़े 15 से 20 लोग बड़ी बेचैनी से मेरे कपड़े उतारने का इंतजार कर रहे थे। मैं जिस तरह मॉडलिंग के बेहतर भविष्य के धोखे में इस धंधे में धकेली गई कोई भी लड़की ऐसे हालात में न नहीं कह पाती, बता दे अमेरिका के बाद जापान में पोर्न फिल्मों का बहुत अधिक क्रेज है इसको लेकर उनका एटीट्यूड बहुत ही उदारवादी है। लेकिन इसकी आड़ में इस इंडस्ट्री के डरावने सच की शायद कभी कोई बात नहीं होती। पोर्न इंडस्ट्री में लड़कियों को इंसान कदापि नहीं समझा जाता इन फिल्मों में लड़कियों से उनकी मर्जी के खिलाफ ब्रुटल क्रूर सेक्स करवाया जाता है इसे लेकर इस इंडस्ट्री ने बिना शर्त माफी भी मांगी थी जापान में अक्सर लड़कियों से जबरन पोर्न फिल्मी करवाने वाले एजेंट गिरफ्तार होते रहते हैं। जापान ही नहीं दुनिया के तमाम देशों में साकी कोजाई जैसी लड़कियों कुमार डेरिंग जैसे हसीन सपने दिखाकर अच्छे भविष्य के लालच में धोखा देते हुए ऐसे दल-दलदलों मे ढकेल कर जबरन देह व्यापार के धंधे में लाया जाता है कई मामलों में मानव तस्करी भी इसका अंग बन जाती है। साकी कोजाई की तरह एक और लड़की ने भी अपनी दास्तां बताइए जिससे उसका काम बताए बिना हसीन सपने दिखाकर कॉन्ट्रैक्ट साइन कराया गया था उसने बताया एजेंसी महीनों तक उसे राजी करने की कोशिश करती रही। जब मेरे पास इसके अलावा कोई रास्ता नहीं था तो मुझे मजबूरी में यह सब करना पड़ा उसने बताया जब मैंने पहली बार किया तो मुझे बहुत दर्द हुआ, लेकिन प्रोडक्शन टीम रुकी नहीं वो अपना काम करते रहे। बता दे ऐसे एक 2 मिनट के वीडियो के लिए कई कई कट लगाकर कई बार घंटो घंटो शूटिंग होती रहती है पॉर्न इंडस्ट्री में काम करने वाली अधिकतम लड़कियों उम्र महज 18 से 25 साल होती है कहीं दृष्टि में चोरी-छिपे नाबालिक लड़कियों से भी एक करोड़ का रे करवाए जाते हैं समय-समय पर ऐसी चीजों का भंडाफोड़ होता रहता है कई गिरफ्तारियां भी होती है बता दे ऐसे मामलों में हंसते सितारों को लीगल कॉन्ट्रैक्ट यानी समझौतों की ज्यादा जानकारी नहीं होती कईयों को अफसोस होता है कि जो भी हुआ यह उनकी गलती से हुआ बता दे जापान जैसे छोटे से देश में हर साल इस तरह की 30,000 से अधिक फिल्में बनाई जाती है इंटरनेट के इस दौर में भारत समेत कई देशों ने ऐसी सैकड़ों वेबसाइट को ब्लॉक किया है लेकिन इंटरनेट के इस जाल में ऐसी फिल्मों पर पूरी तरह से रोक लगाया जाना लगभग असंभव सा लगता है फिलहाल पूरे मामले में साकी कोजाई अपनी पिछली एजेंसी पर धोखे में रखकर जबरन इस धंधे में धकेलने के लिए केस करने जा रही है वह इस दलदल से निकलकर सामान्य जिंदगी में आने वाली लड़कियों की बातें काबिले तारीफ है मुश्किल नहीं है इन चीजों से बाहर निकलकर सामान्य जिंदगी जीना लेकिन अगर ऐसी पीड़ितों द्वारा बाहर आकर आवाज उठाई जाएगी तो बहुत मुमकिन है कि इस इंडस्ट्री के हालात ही सुधरेंगे और जबरन गैर कानूनी तरीके से इस दलदल में लाई जाने वाली लड़कियों को इंसाफ भी मिल पाएगा और इसकी संख्या घटेगी जबरन इस धंधे में ने हसीन सपने दिखाकर धोखे में रखकर लाने वाले लोगों पर शिकंजा भी कसा जाएगा अधिकतर के सच में ऐसे पीड़ित पहचान उजागर होने समाज में अलग-थलग कर देने के डर से सामने नहीं आते हैं या अपराधिक प्रवृत्ति के लोग इसे चीजों का फायदा उठाते हैं।Now we are going to present you the story of Japanese porn star Saki Kozai, one of the Johnny girls, 6 years ago today, Saki Kozai was offered a job in a model scout on the street of Tokyo, the capital of Japan. He felt that his dream was about to come true with a good career. Presently 30-year-old Saki Kozai, who was just 24 years old at that time, signed the contract after hearing about working in the promotional video. Later, when he came face to face with the reality, he was pushed into the quagmire of this pornography by taking the pretext of talking about professional videos. Today 30-year-old Saki Kozai is a porn star but she has now joined those girls who have come out of this scary shadow and are among those girls who are openly speaking that she did not go into this pornography industry of her own free will. He was forcibly pushed into the black business of this pornography industry by showing lucid dreams. He told that while signing the contract he did not know that the company which is giving him work is not a modeling agency. Japan’s pornography industry is the second largest porn industry in the world after America, whose empire is spread over hundreds of millions of dollars, yet money is not everything for everyone. On the first day of Saki Kozai’s job, when her job came to know… that is to have sex in front of the camera. She cried, “I couldn’t take off my clothes, I was just crying, but there was no way out of that swamp. There were 15 to 20 people standing around me anxiously waiting for me to take off my clothes. The way any girl who was pushed into this business in the deception of a better future of modeling, could not say in such a situation, tell that after America, there is a lot of craze for porn films in Japan. Is liberal. But under the guise of this, there is probably no talk of the scary truth of this industry. Girls are never considered human in the porn industry. In these films, girls are subjected to brutal cruel sex against their will. Unconditional apology was also apologized in Japan, agents who force girls to film porn movies are often arrested.Not only in Japan, but in all countries of the world, girls like Saki Kozai cheated in the greed of a good future by showing beautiful dreams like Kumar Daring. – Pushed into the swamps and forcibly brought into the business of flesh trade In many cases, human trafficking also becomes a part of it. Like Saki Kozai, another girl also told her story from which the contract was signed without revealing her work, she told that the agency kept trying to persuade her for months. When I had no other option, I had to do all this under compulsion, he told that when I did it for the first time, I was in a lot of pain, but the production team did not stop, they kept doing their work. Let us tell you that for such a 2-minute video, many cuts are being shot for hours and many times, the maximum girls working in the porn industry are only 18 to 25 years old, somewhere even one crore from minor girls secretly in sight. Cases are made from time to time, such things are busted, many arrests are also made, tell that in such cases, the laughing stars do not have much knowledge of the legal contract, many regret that whatever happened is their fault. In a small country like Japan, more than 30,000 such films are made every year. In this era of internet, many countries including India have blocked hundreds of such websites, but in this web of internet, such films are completely banned. It seems almost impossible to be banned. Right now, Saki Kozai is going to sue her previous agency to force her into this business by deceiving her. She comes out of this swamp and talks about girls coming to normal life. It is not difficult to get out of these things and live a normal life But if such victims come out and raise their voice, it is quite possible that the situation of this industry will improve and the girls who are forcibly brought into this swamp illegally will also get justice and its number will decrease forcibly in this business. People who bring them by showing deceit will also be clamped down, in most of the truth, such victims do not come forward for fear of being exposed and isolated in the society or people of criminal tendency take advantage of these things.

बरहाल मानव अधिकार के साथ हर किसी को अपने तरीके से जीने स्वतंत्रता पूर्वक जो कानून ने वैध है उन पैसों को अपनाने की हर किसी को आजादी है।However, with human rights, everyone has the freedom to live freely in their own way, adopt the money that is legalized by the law.

विशाल गुप्ता की रिपोर्ट Vishal Gupta reports

loading...

loading...