loading...

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में 48 घंटे के अंदर दो दुष्कर्म पीड़िताओं की मौत से मातम पसरा हुआ है| पूरे मामले में कानून व्यवस्था के मद्देनजर CO, 2 एसएचओ के साथ हल्का इंचार्ज के साथ एक कांस्टेबल को सस्पेंड कर कार्रवाई की गई है| पीड़िता के घर में घुस पेट्रोल छिड़ककर जिंदा जलाने के दुष्कर्म के (आरोपी के) परिजनों समेत सात लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कर पुलिस द्वारा कार्रवाई की जा रही है| दूसरी तरफ 4 महीने पहले दरिंदगी की शिकार युवती का दिल्ली के हॉस्पिटल में इलाज के दौरान निधन हो गया है|

जानकारी के मुताबिक बुलंदशहर के जहांगीराबाद कोतवाली क्षेत्र की रहने वाली दलित नाबालिक को आरोपी द्वारा अगस्त 2020 में बंधक बनाकर दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया था जिसके बाद शिकायत पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था आरोपी तब से अभी तक जेल में है| पीड़िता के परिजनों के मुताबिक आरोपी पक्ष द्वारा लगातार सुलह करने का दबाव बनाया जा रहा था कल आरोपियों द्वारा धमकी भी दी गई थी आरोप के मुताबिक मंगलवार सुबह आरोपी के चाचा चाची कूड़ा डालने घर से बाहर निकली पीड़िता को जमकर पीटा वहां से जान बचाकर भागी पीड़िता अपने घर में घुस गई जिसके बाद आरोपियों ने उसके घर में घुसकर पेट्रोल छिड़ककर जिंदा जला दिया| 80% झुलसी पीड़िता को जिला हॉस्पिटल के ले जाया गया जहां गंभीर अवस्था के चलते उसे दिल्ली के राम मनोहर लोहिया हॉस्पिटल में ले जाया गया जहां पर इलाज के दौरान आज शाम पीड़िता की मौत हो गई| पुलिस ने पूरे मामले में 7 आरोपियों के खिलाफ मामला पंजीकृत कर लिया है|

loading...

UP के बुलंदशहर जिले के जहांगीराबाद क्षेत्र के एक गांव में आज यानी कि मंगलवार को 3 महीने पहले दुष्कर्म की शिकार पीड़िता के घर में दुष्कर्म के आरोप में जेल में बंद आरोपी के परिजनों ने पीड़िता पर सुलह समझौते का दबाव बनाते हुए इनकार करने पर पेट्रोल छिड़ककर जिंदा जला दिया| पीड़िता को तत्काल 80% झुलसी गंभीर अवस्था में जिला हॉस्पिटल के बाद हायर मेडिकल सेंटर रेफर किया गया| दिल्ली के हॉस्पिटल में पीड़िता को बचाया नहीं जा सका| पुलिस ने पूरे मामले में आरोपी पक्ष के एक महिला समेत सात आरोपियों के खिलाफ नामजद मामला दर्ज जांच की बात कर रही है| पूरे मामले में एसएसपी संतोष कुमार सिंह के मुताबिक लापरवाही के आरोप में जहांगीराबाद कोतवाल विवेक शर्मा पर कार्रवाई करते हुए लाइन हाजिर कर दिया गया है| बता दें कि जहांगीराबाद क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली किशोरी से 4 महीना पहले यानी कि पहले 15 अगस्त की तारीख को दुष्कर्म की घटना घटित हुई पूरे मामले में शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भी दिया था| जो कि आज भी जेल में बंद है पूरे मामलों में पीड़िता के परिजनों के आरोप के मुताबिक पीड़ित पक्ष पर आरोपी पक्ष के परिजनों द्वारा लगातार समझौते का दबाव बनाया जा रहा था| कल उन्हें धमकी भी दी गई थी इसी कड़ी में मंगलवार सुबह आरोपी के परिजनों ने उनके घर में घुसकर किशोरी को पेट्रोल छिड़ककर आग के हवाले कर दिया आग की लपटों को देखकर आग की लपटों से घिरी किशोरी को किसी तरीके से आग पर काबू पाने के बाद बुरी तरह झुलसी अवस्था में स्थानीय जिला हॉस्पिटल ले जाया गया| जहां उसकी हालत नाजुक होने के चलते हर मेडिकल सेंटर रेफर किया गया, जिसके बाद उसकी इलाज के दौरान शाम को मौत हो गई| पूरी घटना की जानकारी के बाद पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे पीड़िता के परिजनों ने तहरीर देकर जेल में बंद आरोपी के परिजनों में एक महिला समेत सात लोगों द्वारा उसके घर में घुसकर पीड़िता को पेट्रोल डालकर जिंदा जलाने का मामला दर्ज किया है|

वहीं कुछ लोगों द्वारा बताया गया कि पीड़िता ने खुद पर तेल डालकर आत्मदाह का प्रयास किया है| लेकिन पीड़िता के बयान के मुताबिक आरोपी के चाचा समेत लोगों ने उसे आग के हवाले कर दिया है|

loading...

पूरे मामले में एफ आई आर के आधार पर आरोपी संजय, काजल पत्नी संजय, बनवारी, बदन सिंह, वीर सिंह, जसवंत व गौतम सिंह के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया है|

पुलिस का पूरा पक्ष सुन कर पूरे मामले को समझने की कोशिश करें-

loading...

एसएसपी संतोष सिंह के के मुताबिक- प्रारंभिक जांच के अनुसार दुष्कर्म पीड़िता द्वारा आत्मदाह का प्रयास किया गया है दुष्कर्म का आरोपी अभी भी जेल में है आरोपी के चाचा द्वारा समझौते का दबाव बनाया गया तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर जांच की जा रही है| लापरवाही पर जहांगीराबाद कोतवाल को लाइन हाजिर कर दिया गया है|

न्याय न मिलने से आहत गैंगरेप की शिकार, एलएलबी छात्रा ने सुसाइड नोट लिखकर किया सुसाइड

बुलंदशहर की अनूपशहर में एलएलबी की छात्रा सभा के साथ गैंगरेप की घटना को तीन आरोपियों ने मिलकर अंजाम दिया इंसाफ न मिलने एलएलबी की छात्रा ने सुसाइड नोट लिखकर आत्महत्या कर ली| सुसाइड नोट आने के बाद पूरे मामले में कानून व्यवस्था से लेकर पुलिस पर प्रश्नचिन्ह उठने खड़े हुए

बता दें 24 अक्टूबर को अनूपशहर पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था मृतक पीड़िता ने तहरीर में 16 अक्टूबर को अपने साथ गैंगरेप होने की बात कही नामजद आरोपियों ने पीड़िता का अश्लील वीडियो भी बना लिया था जिसे ब्लैकमेल करने के साथ उसे वायरल करने की धमकी दे रहे थे| पीड़िता ने बताया था कि 16 अक्टूबर को कमरुद्दीन ने उसे मिलने के बहाने बहला-फुसलाकर बुलाया और अपने दोस्तों के साथ उठा ले जाकर उसके साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया पूरे मामले में पीड़िता ने सुसाइड नोट में भी अपना दर्द लिखा मामले में पुलिस द्वारा आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई| इसके चलते पीड़िता ने सुसाइड नोट लिखकर फांसी लगाकर जान दे दी| मृतक के पिता के मुताबिक उसकी बेटी के साथ तीन आरोपियों द्वारा गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया गया था| जिसकी वजह से सोमवार को उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली| पूरे मामले पर बुलंदशहर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने कहा कि मामले की गहनता से जांच कराई जा रही है| सोमवार को पीड़िता के द्वारा आत्महत्या के बाद मुकदमे के विवेचक को सस्पेंड कर दिया गया है|

साथ में ही अनूपशहर सीवो व एसपी क्राइम ब्रांच के द्वारा पूरे मामले की जांच कराई जा रही है जिसकी रिपोर्ट 24 घंटे मि सामने आएगी| जिसके बाद आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी| फिलहाल पूरे मामले में मुख्य आरोपी कमरुद्दीन को हरियाणा के फरीदाबाद से गिरफ्तार कर लिया गया है

अन्य की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं|

बुलंदशहर रेप की शिकार जिंदा जलाई गई पीड़िता का हुआ, पुलिस पीएसी की मौजूदगी में अंतिम संस्कार

जिंदगी की जंग हारी पीड़िता का अंतिम संस्कार पहले लड़की से रेप हुआ फिर समझौता न करने पर उसे आरोपी की चाची चाचा समेत सात लोगों द्वारा पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया गया, इलाज के दौरान पीड़िता का दिल्ली में निधन हो गया था, कोविड-19 की जांच के बाद पीड़िता के शव का पोस्टमार्टम हुआ जिसे आज पूरे गांव में सुरक्षा बलों की मौजूदगी के बीच सुपुर्द ए खाक करते हुए

अंतिम संस्कार कर दिया गया| पुलिस ने पूरे मामले में कार्रवाई करते हुए 7 में से पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है|

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here