loading...

हापुड़ में इंसानियत को शर्मसार कर देने वाली घटना का अनुमान आप इसी से लगा सकते हैं कि 6 वर्षीय मासूम बच्ची का अपहरण करने के बाद दरिंदों ने मासूम बच्ची के प्राइवेट पार्ट तक को कुचल डाला, एक तरफ दरिंदें रूह कपा देने वाले कांड को अंजाम देते रहे तो दूसरी तरफ जिम्मेदार हापुड़ पुलिस पूरे मामले को गुमशुदगी बताती रही, समय रहते अगर पुलिस मुस्तैदी दिखाती तो इस घटना को रोका जा सकता था। बच्ची जंगल से बेहद बुरी स्थिति में बरामद हुई। इस समय उसका इलाज मेरठ के हॉस्पिटल में चल रहा है।उत्तर प्रदेश के हापुड़ में 6 वर्षीय मासूम के साथ दरिंदों ने हैवानियत की हदें पार कर जंगल में फेंक कर फरार हो गए। पूरे मामले में पीड़िता का मेडिकल करवाया गया जिसमें दुष्कर्म की पुष्टि के बाद भी कानून के हाथ आरोपियों के गिरेबान तक पहुंचाने में नाकाम है।बता दे 2 दिन पहले हापुड़ के गढ़मुक्तेश्वर थाना क्षेत्र में घर के बाहर खेल रही मासूम बच्ची को बाइक सवार अगवा ले जाने के बाद शुक्रवार सुबह बेहोशी की हालत में दरिंदे बच्ची को दुष्कर्म के बाद जंगल में छोड़ कर फरार हो गए थे।https://youtu.be/qZK-noasSYk(पूरे मामले पर पूर्व आईएएस अधिकारी सूर्य प्रताप सिंह ने सरकार से बच्ची को किसी अच्छे बड़े हॉस्पिटल में भर्ती कराने की गुहार लगाई ताकि बच्ची जल्दी स्वस्थ हो सके)हापुड़ पुलिस के मुताबिक पूरे मामले में अभियोग पंजीकृत कर स्थानीय स्तर पर 4 टीमों के साथ कुल 6 टीमें गठित कर घटना का अनावरण करते हुए आरोपियों की गिरफ्तारी की जाएगी।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here