loading...

पूर्व समाजवादी नेता व राज्यसभा सांसद अमर सिंह का 64 साल की उम्र में आज सिंगापुर के हॉस्पिटल में लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। बता दें कि किडनी ट्रांसप्लांट के बाद बिगड़ी तबीयत की वजह से वह बीते डेढ़ माह से आईसीयू में थे।27 जनवरी 1956 को उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में जन्मे 64 वर्षीय अमर सिंह एक समय मुलायम सिंह के दाहिने हाथ व समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता अमर सिंह ने 6 जनवरी 2010 को समाजवादी पार्टी से इस्तीफा दे, वर्ष 2016 में पुन: समाजवादी पार्टी में वापसी की थी। वही अमर सिंह नवंबर 1996 में राज्यसभा के लिए मनोनीत किए गए थे। 2008 में मनमोहन सरकार द्वारा विश्वास मत हासिल करने के दौरान भाजपा के तीन सांसदों को एक करोड़ की नोटों की गड्डी दिखाने के मामले में विवादित रहे उन पर पैसों के माध्यम से वोट‌ खरीद फरोख्त करने के गंभीर आरोप लगे थे। जिसके बाद उन्हें 6 सितंबर 2011 को भाजपा के दो सांसदों के साथ “कैश फॉर वोट” कांड में तिहाड़ जेल भेजा गया था। उत्तर प्रदेश चुनाव 2012 के दौरान अमर सिंह ने राष्ट्रीय लोक मंच के नाम से नई पार्टी की स्थापना भी की थी।कद्दावर नेता अमर सिंह के निधन के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से लेकर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तक ने शोक जताते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की कुछ प्रमुख नेताओं के ट्वीट नीचेमर सिंह को वर्तमान में 5 जुलाई 2016 को उत्तर प्रदेश से राज्यसभा सांसद के रूप में चुना गया था। समाजवादी पार्टी से इस्तीफा देने के बाद अमर सिंह की नज़दीकियां सत्ताधारी बीजेपी से बढ़ने लगी थी। बीमार होने के चलते वह राजनीति से धीरे-धीरे असक्रिय होने लगे थे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here